मंगल पाण्डेय भारतीय स्वतंत्रता सेनानी थे जिन्होंने 1857 में भारत के प्रथम स्वाधीनता संग्राम में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। वे ईस्ट इंडिया कंपनी की 34वीं बंगाल इंफेन्ट्री के सिपाही थे। तत्कालीन अंग्रेज़ी शासन ने उन्हें बागी करार दिया जबकि आम हिंदुस्तानी उन्हें आज़ादी की लड़ाई के नायक के रूप में सम्मान देता है।

भारत के स्वाधीनता संग्राम में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका को लेकर भारत सरकार द्वारा उनके सम्मान में सन् 1984 में एक डाक टिकट जारी किया गया।

19 जुलाई 1827 को जन्मे अमर शहीद मंगल पांडेय को शत शत नमन।

फेसबुक से टिप्पणी करें