ऐतिहासिक रुइया गढ़ी से सिमरिया तक हुआ साइकिल रेस का आयोजन

0
67
स्वतंत्रता दिवस पर देश की आजादी के लिए कुर्बानी देने वाले शहीदों की याद में नई पीढ़ी में देश प्रेम की भावना पैदा करने के लिए 51 किलोमीटर दूरी की साईकल रेस का आयोजन माधौगंज के शहीद स्मारक रुइया गढ़ी से अभय शंकर गौड़ एडवोकेट द्वारा प्रतिभागियों को हरी झंडी दिखाकर किया गया।
1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रेजों से लोहा लेते हुए ब्रिगेडियर जनरल होप को मार गिराने वाले रोहिया गांव के क्रांतिकारी नरपत सिंह की याद में पत्रकार स्वर्गीय शिशु पाल सिंह द्वारा निर्मित शहीद स्मारक से 1932 में सिमरिया गांव के मेले में अंग्रेजी शासकों द्वारा बर्बरतापूर्वक नरसंहार करने वाली त्याग और तपस्या से जुड़े शहीद स्मारक सिमरिया तक 51 किलोमीटर की साइकिल रेस आयोजित की गई। इसमें नव युवकों ने भाग लिया।
भाग लेने वाले प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान रखने वाले नव युवकों को शहीद स्मारक सिमरिया पर प्रतीक चिन्ह और ₹2000 का चांदी का नोट अध्यक्ष अभय शंकर गौड़ द्वारा देकर सम्मानित किया गया। इस रेस का संचालन टेन स्क्वायर के मंत्री गोपाल मिश्रा उनकी टीम के अन्य सदस्यों ने किया।
इस अवसर पर अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष कुलभूषण सिंह ने राष्ट्रध्वज फहराकर नव युवकों को आज देश की आजादी मिलने के बाद भारत माता की अस्मिता को बचाने के लिए शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता तथा नागरिक कर्तव्यों के प्रति जागृत किया। सभी बच्चों को मिष्ठान वितरण भी किया गया। इस समारोह में जिला स्काउट मास्टर पंकज वर्मा, तहसीलदार सवायजपुर, SDM सवायजपुर के अतिरिक्त क्षेत्रीय लोग भी उपस्थित रहे। समारोह का संचालन महेश मिश्र ने किया आभार सिमरिया गांव के प्रधान संजय यादव ने किया।