हरदोई : आर्य समाज का 133वां वार्षिकोत्सव शुरू, देश भर से महोपदेशक व भजनोपदेशक जुटे

0
26
आर्य समाज हरदोई का 133वां वार्षिकोत्सव प्रातः कालीन बेला में बुधवार को आर्य समाज मंदिर में ध्वजारोहण व वैदिक यज्ञ से शुरू हुआ। देश भर से आए आर्य महोपदेशकों व भजनोपदेशकों के प्रवचन के बाद विभिन्न विद्यालयों के छात्र छात्राओं के बीच ‘दयानंद वॉक प्रतियोगिता’ हुई। सांध्यकालीन बेला में यज्ञ संध्या के बाद हुए प्रवचन में वेदों को ज्ञान का भंडार बताया गया और उनके पठन-पाठन पर बल दिया गया। उपदेशकों ने अंधविश्वास, पाखंडों का खंडन करते हुए राष्ट्र व समाज को वैदिक मार्ग पर ले जाने की बात कही। महर्षि दयानंद सरस्वती के राष्ट्र निर्माण के योगदान को सराहा।
वार्षिकोत्सव में फर्रुखाबाद के महोपदेशक आचार्य चंद्रदेव ने कहा कि राष्ट्र एवं मानव उत्थान के लिए भारतीय संस्कृति को अपनाना होगा। आचार्य ने कहा कि विदेशी प्रहार ने भारतीय संस्कृति एवं संस्कृत को नुकसान पहुंचाया है, जिससे वेद ज्ञान व उनका पठन-पाठन भी प्रभावित हुआ है। आचार्य चंद्रदेव ने कहा कि भारत को विश्व गुरु बनाने के लिए देशवासियों को वेदों की ओर लौटना ही होगा।
मुजफ्फरनगर के भजनोपदेशक संदीप वैदिक व हिमाचल प्रदेश से आए हरिश्चंद्र आर्य ने प्रेरक भजनों से वेदों के महत्व पर प्रकाश डाला और आर्य समाज की स्थापना के माध्यम से महर्षि दयानंद सरस्वती के राष्ट्र निर्माण के योगदान को रेखांकित किया। जनपद के महोपदेशक विमल आर्य ने चरित्र निर्माण पर बल दिया व कहा वेद मार्ग पर चलकर ही देश को उन्नति के शिखर तक पहुंचाया जा सकता है।
सीएसएन डिग्री कॉलेज के पूर्व प्राचार्य डॉक्टर बीडीएस पांडेय के संयोजन में ‘दयानंद वॉक प्रतियोगिता’ वरिष्ठ वर्ग में ‘आधुनिक संदर्भ में वैदिक संस्कृति की उपादेयता’ विषय में रफी अहमद किदवई इंटर कॉलेज हरदोई के कक्षा 11 के छात्र अक्षय प्रताप सिंह ने प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया, वहीं आर्य कन्या महाविद्यालय की बीए तृतीय वर्ष की छात्रा वर्षा पांडे ने द्वितीय एवं पूर्णिमा वर्मा ने तृतीय पुरस्कार प्राप्त किया। जबकि रफी अहमद किदवई इंटर कॉलेज कक्षा नौ के छात्र को सांत्वना पुरस्कार दिया गया। कनिष्ठ वर्ग में ‘नारी जागृति में आर्य समाज का योगदान’ विषय पर आर्य कन्या पाठशाला इंटर कॉलेज पिहानी चुंगी हरदोई की कक्षा 7 की छात्रा अनुज्ञा सिंह ने प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया।
अध्यक्षता आर्य समाज के प्रधान राजीव रंजन मिश्र ने की। समारोह का संचालन ज़िला आर्य प्रतिनिधि सभा हरदोई के प्रधान एवम सीएसएन डिग्री कॉलेज हरदोई के पूर्व प्राचार्य बीडी शुक्ल ने किया। प्रतियोगिता के निर्णायक मंडल में पूर्व प्राचार्य डॉ नरेश चंद्र शुक्ल, साहित्यकार डॉ ईश्वरचंद्र वर्मा एवं वेणी माधव विद्या पीठ की सेवा निवृत्त शिक्षिका इंदु शुक्ला रही। स्वागत आर्य समाज की मंत्री सीमा मिश्रा ने और आभार कोषाध्यक्ष सुयश बाजपेई ने जताया।
समारोह में अरुणेश बाजपेई, गिरीश श्रीवास्तव, हनुमान प्रसाद, सुधा विद्या वाचस्पति, सियाराम, पूर्व सैनिक रूद्रदत्त, अर्पित मेहरोत्रा, संजय सिंह, प्रोफेसर अखिलेश बाजपेई, डॉ शीला पांडेय, सीतापुर के संत महावीर आर्य रहे।