भाजपा के जय प्रकाश ने अहिरोरी में मीटिंग के दौरान याद किया शिवनाथ की ड्यौढ़ी से रिश्ता

0
19

हरदोई : संसदीय चुनाव के बहाने उम्मीदवार बीते वक़्त के रिश्तों को ताज़ा कर जुड़ रहे वोटर्स से

संतोष सिंह ने दिवंगत पिता की सियासी विरासत सहेजने को ज़मीन पर दिखाया अपना दमखम

संसदीय आम चुनाव में तीसरे चरण में 29 अप्रैल को 31-हरदोई (सुरक्षित) लोकसभा क्षेत्र में मतदान होना है। वक़्त कम है और उम्मीदवारों को लम्बे-चौड़े क्षेत्र में मतदाताओं से व्यक्तिगत तौर पर सम्पर्क की चुनौती है। लिहाजा, पार्टियों ने गांव-जवार में व्यक्तिगत प्रभाव रखने वाले समर्थकों के ज़रिए छोटी-छोटी बैठकों की रणनीति बनाई है। वहीं, ये बैठकें सियासत की विरासत सहेजने का भी जरिया बन रही हैं। कल देर शाम अहिरोरी में ऐसा देखने को मिला।

ब्लॉक मुख्यालय वाली अहिरोरी ग्राम पंचायत 2012 में परिसीमन से पहले विधानसभा क्षेत्र मुख्यालय भी थी। तक़रीबन 10 हजार के आसपास मतदाताओं वाली इस ग्राम पंचायत के कभी शिवनाथ सिंह प्रधान रहे थे। उनके दिवंगत होने के बाद उनका राजनीतिक उत्तराधिकार भी जाता रहा। हालांकि, सूबे में भाजपा सरकार के गठन के बाद हुए ब्लॉक प्रमुख के उप चुनाव में शिवनाथ के पुत्र संतोष सिंह खुल कर सक्रिय हुए और भाजपा प्रत्याशी की जीत का ताना-बाना बुन कामयाबी भी दिलाई। अब लोकसभा चुनाव में संतोष सिंह फ़्रण्ट पर हैं। उन्होंने कल देर शाम अहिरोरी में अपने आवास पर भाजपा प्रत्याशी जय प्रकाश में पक्ष में मीटिंग कराई, जिसमे क्षेत्र के मोअज्जिज़ लोग बड़ी संख्या में पहुंचे।
***

जेपी ने भावनाएं सहलाईं

जय प्रकाश ने पूर्व प्रधान शिवनाथ सिंह से अपने आत्मीय रिश्तों को याद किया। कहा, 1991, 1996, 1999 और 2004 के चुनाव में भी अहिरोरी में सम्पर्क की शुरुआत इसी ड्यौढ़ी से की। बोले, अग्रज शिवनाथ का नहीं होना दुःख पहुंचा रहा है, तो उनके पुत्र की जनमानस में स्वीकार्यता देख ‘संतोष’ भी हो रहा है। कहा, 90 के दशक में वह व्यापार करने आए थे, लेकिन हरदोई के लोगों के स्नेह और समर्थन ने 03 बार देश की सबसे बड़ी पंचायत पहुंचा दिया। कहा, इस बार भी वह स्नेह और समर्थन की आस में आए हैं और अवसर दिया तो प्राण-प्रण से सेवा करेंगे। जय प्रकाश ने कहा, चुनाव राष्ट्रवाद और देश की सीमाओं को सुरक्षित रखने का है और इसमें संदेह नहीं कि केवल मोदी ही ऐसा करने में दृढ़ निश्चयी हैं। इसलिए विपक्ष के झूठे वादों से भ्रमित नहीं होना है और मोदी को फिर प्रधानमंत्री बनाने के लिए वोट करना है।
***

सौरभ दे रहे हिन्दुत्व को धार

भाजपा जिलाध्यक्ष सौरभ मिश्र नीरज बसपा सुप्रीमो मायावती की एक अपील का जिक्र कर प्रखर हिन्दुत्व का एजेण्डा साध रहे हैं। अहिरोरी की मीटिंग में इसका मुजाहिरा भी हुआ। सौरभ ने कहा, मायावती मुसलमानों से कहती हैं कि बंटना नहीं है। तो, हिन्दुओं को भी संकल्प लेना चाहिए कि जाति-बिरादरी और निजी विवाद से ऊपर उठकर एकजुट हों। भाजपा को वोट कर फिर मोदी के प्रधानमंत्री बनने का मार्ग प्रशस्त करें। जिलाध्यक्ष ने मीटिंग की अध्यक्षता कर रहे मास्टर सिंह के भाषण के हवाले कहा, राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा से इतर स्थानीय बात करें तो आज किसान खेत में सुरक्षित सोते हैं। अपहरण की वारदात अतीत की बात हो गई हैं। ट्यूबवेल के पंखे आदि की चोरी की घटनाएं सुनने को नहीं मिलतीं। गांवों को बिजली सप्लाई का शेड्यूल हफ्ते का होता था, आज दैनिक है। कहा, दिन में बिजली कटौती को लेकर विपक्षी भ्रम फैला रहे हैं। सच्चाई ये है कि गेहूं की फसल पकी खड़ी है और हाईटेंशन लाइन से चिंगारी गिरने की वजह से फसल को नुकसान नहीं पहुंचे, इसलिए दिन में बिजली सप्लाई रोकी जाती है।
***

इन्होंने भी किया सम्बोधित

गोपामऊ विधायक श्याम प्रकाश, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष राम किशोर गुप्ता गुप्ता ‘गुड्डू’, एससीएसटी कमीशन के पूर्व सदस्य प्रदीप कुमार वर्मा ‘पीके’, जिला उपाध्यक्ष अजीत सिंह ‘बब्बन’, लोकसभा क्षेत्र प्रभारी अशोक सिंह, डही प्रधान ओंकार सिंह, सदर विधानसभा क्षेत्र के पूर्व प्रत्याशी राजाबक्स सिंह, ब्लॉक प्रमुख संघ जिलाध्यक्ष/बावन ब्लॉक प्रमुख समीर सिंह, जिला कार्यसमिति सदस्य पारुल दीक्षित। मीटिंग में क्षेत्रीय विधायक प्रभाष कुमार भी पहुंचे थे, लेकिन अचानक तबियत बिगड़ने से उन्हें जाना पड़ा। मीटिंग की अध्यक्षता भीठा दानसिंह प्रधान मास्टर सिंह ने की और संचालन साण्डी विधानसभा क्षेत्र प्रभारी अभय शंकर शुक्ला ने किया।
***

ये रहे मौजूद

भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष राम बहादुर सिंह, गंगा विचार मंच के अवध क्षेत्र संयोजक सुशील अवस्थी ‘छोटे महराज’, संजय सिंह गुड्डू ‘आशा’, युवा मोर्चा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष ठाकुर सन्दीप सिंह, अहिरोरी प्रधान संघ अध्यक्ष सर्वेश पाण्डेय, साण्डी प्रधान संघ अध्यक्ष आशीष सिंह, कोट प्रधान विपिन सिंह, समरेहटा प्रधान पप्पू सिंह, धूरा प्रधान बबलू सिंह, साधन सहकारी समिति अहिरोरी के सभापति ओमपाल सिंह, अजय प्रताप सिंह, नीरज बाजपेयी, युवा मोर्चा जिला उपाध्यक्ष गीत सिंह गौर एडवोकेट, आईटी सेल जिला संयोजक सौरभ सिंह गौर, युवा मोर्चा हरदोई नगर मण्डल पूर्व अध्यक्ष जीत ठाकुर, प्रद्युम्न आनन्द मिश्रा, अभिषेक पाण्डेय, गया बख्श सिंह, मुकेश वर्मा और केडी आदि।