फाइव स्टार होटल में लड़की पर बंदूक तानने वाले आरोपी आशीष पांडे ने दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में आज सरेंडर कर दिया।
कोर्ट ने आशीष को एक दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पुलिस चार दिनों की रिमांड मांग रही थी। आशीष पांडे ने आज अदालत में जमानत याचिका दाखिल नहीं की। बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के पूर्व सांसद राकेश पांडे के बेटे आशीष पांडे ने सरेंडर करने से ठीक पहले एक विडियो जारी कर कहा कि मुझे फंसाया गया है। मुझे इस तरह पेश किया जा रहा है जैसे कि मैं आतंकी हूं।
आशीष पांडे को 14 अक्टूबर से दिल्ली पुलिस तलाश रही थी। दिल्ली पुलिस ने लखनऊ समेत आशीष के कई ठिकानों पर दबिश दी हालांकि उसे सफलता नहीं मिली। जिसके बाद आज उसने आत्मसमर्पण किया है।
उसने होटल कैंपस में लड़की से झगड़ने और हाथ में बंदूक रखने को लेकर कहा, ”यह मेरी गलती थी, मैं इसको मानता हूं। घटना को एकतरफा दिखाया जा रहा है। अगर पूरे मामले की तहकीकात की जाए, सीसीटीवी फुटेज दिखाया जाए तो पता चल जाएगा की लेडीज टॉयलेट में कौन घुसा था और किसने किसको धमकी दी थी। मैंने बंदूक नहीं तानी। लड़की ने अश्लील इशारे किए। मुझे न्यायिक प्रक्रिया में भरोसा है।”
आशीष पांडे ने कहा, ”पिस्टल होटल के अंदर नहीं लेकर गए। पिस्टल कार में ही रखी थी। वे डैशबोर्ड से पिस्टल निकाल कर गाड़ी में दूसरी जगह रख रहे थे तभी लड़के ने गाली दी उसके बाद वे पिस्टल लेकर निकले। लेकिन एक बार भी पिस्टल किसी पर नहीं तानी, पूरे समय पिस्टल मैंने पीछे की तरफ रखी। आशीष ने ख़ुद सवाल दागा कि क्या अपनी रक्षा में पिस्टल मैं नहीं रख सकता? मेरा लाइसेंस वैध है।”
14 अक्टूबर से सोशल मीडिया पर एक विडियो खूब वायरल हो रहा है। जिसमें पूर्व बीएसपी सांसद का बेटा आशीष पांडे एक लड़की से बदसलूकी कर रहा है। इस दौरान कुछ लोग झगड़ा शांत कराने की कोशिश कर रहे हैं, तो कुछ लोग तमाशबीन हैं। विडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने आशीष पांडे की खोजबीन शुरू की।
आशीष पांडे पर आरोप है कि वह लेडीज टॉयलेट में घुस गया था, जब लड़की ने इसका विरोध किया तो उसने बदसलूकी शुरू कर दी। पुलिस का कहना है कि विडियो में आशीष पांडे और उसके दोस्तों को एक व्यक्ति को गाली देते सुना जा सकता है। पुलिस उपायुक्त देवेंद्र आर्य ने कहा कि घटना के संबंध में दक्षिणी दिल्ली स्थित हयात रीजेंसी होटल के सहायक सुरक्षा प्रबंधक ने सोमवार को सूचित किया।
फेसबुक से टिप्पणी करें