पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ सरकार में शामिल पार्टी भी सवाल उठाने लगी है। महाराष्ट्र और केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सहयोगी शिवसेना ने तेल के दामों में बढ़ोतरी के खिलाफ मुंबई की सड़कों पर होर्डिंग लगाए हैं। होर्डिंग में पेट्रोल, डीजल और गैस की कीमतों की तुलना साल 2015 और आज की कीमतों से की गई है और पूछा गया है- यही हैं अच्छे दिन?
होर्डिंग शिवसेना मुख्यालय मातोश्री के बाहर भी लगाए गए हैं। आपको बता दें कि महाराष्ट्र में पेट्रोल-डीजल सबसे महंगे दर पर बिक रहा है।
शिवसेना ने पिछले दिनों अपने मुखपत्र सामना में लेख लिखकर भी बीजेपी पर निशाना साधा था। शिवसेना ने कहा था, ‘‘पेट्रोल, डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं। पेट्रोल शीघ्र ही 100 रूपए पर पहुंच जाएगा। बड़ी संख्या में बेरोजगार युवक सड़कों पर उतरेंगे और अराजकता फैलाएंगे। किसान खुश नहीं हैं। खाद्य पदार्थों, रसोई गैस और सीएनजी की कीमतों में वृद्धि हुई है। नए निवेशों में गिरावट आई है।’’
शिवसेना के अलावा कांग्रेस, एनसीपी, आम आदमी पार्टी, वामदल, आरजेडी, टीएमसी, समाजवादी पार्टी और बीएसपी समेत अन्य दल भी पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस ने कल भारत बंद का एलान किया है। इस बंद में ज्यादातर विपक्षी दलों के शामिल होने की उम्मीद है।
ध्यान रहे कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में करीब दो हफ्ते से लगातार बढ़ोतरी हो रही है। आज राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल 80 रुपये 50 पैसे प्रति लीटर और डीजल 72 रुपये 61 पैसे प्रति लीटर की दर से बिक रहा है। वहीं मुंबई में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 87 रुपये 89 पैसे और डीजल की कीमत 77 रुपये 09 पैसे है।
फेसबुक से टिप्पणी करें