भरावन में बच्चों ने संभाली स्वच्छता की बागडोर

0
21
स्वच्छ भरावन अभियान मुहिम का हिस्सा बने खण्ड शिक्षा अधिकारी भरावन
स्वच्छता किसी व्यक्ति, एक स्थान या किसी एक सोच से शुरू नही होती है, उसके लिए तो हमें मिलकर काम करना पड़ता है। इसी सोच के साथ भरावन ग्राम को स्वच्छ एवं सुंदर बनाने का बीड़ा इसबार विद्यालय के बच्चों ने उठाया। प्राथमिक विद्यालय भरावन प्रथम ( अंग्रेजी माध्यम ) के बच्चों द्वारा भरावन गांव के ग्राम वासियों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किये गए।
बच्चों ने निकाली जागरूकता रैली
जागरूकता रैली, विद्यालय परिसर से खण्ड शिक्षा अधिकारी भरावन मनोज कुमार सिंह, अभिभावकों, विद्यालय प्रधानाध्यापक व ग्राम प्रधान सुषमा पांडेय की मौजूदगी में गांव की ओर निकली। जिसमे बच्चों द्वारा “स्वच्छ भारत का इरादा, इरादा कर लिया हमने” गाना गाते हुए समस्त ग्राम वासियों को जागरूक करने का प्रयास किया गया ।
रैली गांव के शीतला देवी मंदिर पर जाकर रुकी, जहाँ पहले से ही सभी ग्राम वासी एकत्रित थे।
नुक्कड़ नाटक के माध्यम से किया कूड़ेदान के प्रयोग हेतु सजग
मंदिर परिसर पर पहुँच कर बच्चों द्वारा समस्त ग्राम वासियों के समक्ष एक नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया गया जिसमें बच्चों ने वहां मौजूद लोगों को कूड़ेदान के प्रयोग का संदेश दिया। नुक्कड़ नाटक के अंत में बच्चों द्वारा ग्राम प्रधान व खण्ड शिक्षा अधिकारी के समक्ष समस्त ग्राम वासियों को शपथ दिलाई गई कि वे अब से स्वयं तो अपने घरों में कूड़े दान का प्रयोग करेंगे ही, साथ ही अन्य लोगों को भी बाहर खुले में कूड़ा फेकने से मना करेंगे ।
इस अवसर पर शिक्षक शिवम शर्मा ने गांव वासियों से अपील की कि वे भी इस स्वच्छ भरावन अभियान का हिस्सा बनें और अपने घर के साथ ही अपने गांव को भी स्वच्छ एवं स्वस्थ बनाएं ।
बांटे गए बच्चों द्वारा बने कूड़ेदान और चलाया गया हस्ताक्षर अभियान

विद्यालय के बच्चों का यह जागरूकता अभियान मात्र नुक्कड़ नाटक करने तक ही सीमित नही रहा, बच्चों द्वारा ग्रामवासियों को कूड़ेदान के प्रयोग हेतु प्रेरित करने के लिए अपने द्वारा बने कूड़ेदान बांटे गए। बच्चों के रंग बिरंगे और अलग अलग तरह के कूड़ेदान को देखकर वहाँ मौजूद समस्त ग्राम वासियों ने उनकी इस मुहिम की तारीफ़ की कि इससे काफी लोग जो अपने घरों में कूड़ेदान का प्रयोग नही करते हैं अब वे भी अपने स्तर से किसी खाली पड़े गत्ते, डिब्बे, टीन आदि का प्रयोग कर कूड़ेदान को बनाएंगे। इस अवसर पर वहां आए समस्त ग्राम वासियों से हस्ताक्षर करवा कर उन्हें शपथ दिलाई गई।

मंदिर परिसर की साफ सफाई एवं क्यारी निर्माण
कूड़ेदान के वितरण के बाद बच्चो, समस्त ग्रामवासियों, ग्राम प्रधान की मौजूदगी में मंदिर परिसर की साफ सफाई की गई तथा क्यारी निर्माण किया गया।
कार्यक्रम समाप्ति पर खण्ड शिक्षा अधिकारी द्वारा विद्यालय परिवार की इस मुहिम का समर्थन करते हुए समस्त विद्यालय स्टाफ की प्रशंसा की गई और कहा गया कि यह निश्चित ही एक अच्छी खासी तैयारी का परिणाम है कि बच्चे सार्वजनिक जगह पर आकर इतने आत्मविश्वास से अपनी बात कह पा रहे हैं। ऐसे कार्यक्रम लगातार होने से निश्चित ही गांव में जागरूकता फैलती है।
इस अवसर पर विवेक कुमार शर्मा, शिवम शर्मा, सुरचना, अर्चना, मंजू, रजनी, नीलम, रमेश आदि उपस्थित रहे।