लखनऊ शूट आउट पर अब भाजपा विधायक भी उठा रहे हैं आवाज़

लिखी मुख्यमंत्री को चिट्ठी, कड़ी कार्यवाही का किया आग्रह

शाहाबाद हरदोई से विधायक रजनी तिवारी ने मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश को संबोधित चिट्ठी में लिखा है कि विवेक तिवारी हत्याकांड में लखनऊ के स्थानीय प्रशासन के विरुद्ध कार्यवाही के संबंध में जैसा कि आपको ज्ञात है कि 28 सितंबर की रात को लखनऊ में जो घटना घटी उसने उत्तर प्रदेश पुलिस एवं प्रशासन की छवि को धूमिल करने का काम किया है। इस घटना में लखनऊ के स्थानीय प्रशासन की कार्यशैली घोर निंदनीय है।
उन्होंने आगे लिखा कि पुलिस प्रशासन द्वारा मीडिया में अभियुक्तों को गिरफ्तार बताया गया मगर अभियुक्त एफआईआर लिखवाने पहुंच गया और वहां पर मीडिया के सामने ना केवल उपस्थित हुआ बल्कि बयान देता भी नज़र आया।
उन्होंने आश्चर्य प्रकट किया कि ज़िलाधिकारी लखनऊ ने तो पीड़ित परिवार के अनुसार उन्हें धमकाया जो कि बेहद शर्मनाक है। इस तरह के घटनाक्रम से स्थानीय प्रशासन का व्यवहार पक्षपात पूर्ण प्रतीत होता है।
अंत मे उन्होंने लिखा कि मान्यवर विधानसभा के 403 निर्वाचित सदस्यों में से एक होने के नाते इस सरकार का मैं भी हिस्सा हूं। यदि हमारी सरकार की मंशा के अनुरूप कोई भी अधिकारी एवं कर्मचारी अपने दायित्वों का उचित निर्वहन करने में पक्षपात या मनमानी करता है तो उस स्थिति से आपको अवगत कराना मेरा दायित्व है।
अतः मैं आपसे आग्रह करती हूं कि लखनऊ के ज़िलाधिकारी और पुलिस प्रशासन के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने का कष्ट करें।
फेसबुक से टिप्पणी करें