हरदोई : पहुंचे थे राफेल सौदे पर कांग्रेस का ‘फजीता’ करने, हो गई कलेक्टर से ‘पसड़’

0
20
सौरभ : राष्ट्र की सुरक्षा से खिलवाड़ करने वाले राहुल को राष्ट्रपति करें लोकसेवक पद से मुक्त
भाजपा जिलाध्यक्ष की अगुवाई में पदाधिकारियों ने सौंपा सिटी मजिस्ट्रेट को विस्तृत ज्ञापन
बृजेश ‘कबीर’
राफेल सौदे पर मचा घमासान प्रदेशों की राजधानियों से आगे अब जिला स्तर पर पहुंच गया है। आज भाजपा जिलाध्यक्ष सौरभ मिश्र ‘नीरज’ की अगुवाई में भाजपा के पूर्व व मौजूदा पदाधिकारी, मण्डल स्तरीय पदाधिकारी और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस से पैदल मार्च करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। वहां ज्ञापन से पहले जिलाध्यक्ष ने सम्बोधित किया। कहा, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और उनका परिवार देश को दीमक की तरह चाट गया। शीर्ष सांविधानिक संस्थाओं में उनकी कोई आस्था नहीं है। राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद भी झूठ व भ्रम फैला राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ करने के साथ अंतर्राष्ट्रीय साख पर बट्टा लगाया जा रहा है।
जिलाध्यक्ष ने कहा, राफेल लड़ाकू विमान खरीदने का विषय 2001 में आया था। इसके बाद 2004 से 2014 तक के 10 वर्ष के कांग्रेसनीत यूपीए शासन में इसे लटकाए रखा गया। केन्द्र में मोदी सरकार आने के बाद देश की रक्षा ज़रूरतों के दृष्टिगत पारदर्शी और सार्थक पहल हुई। लेकिन, कांग्रेस की शह पर सौदे को ले कर शीर्ष न्यायालय में 04 याचिकाएं दाख़िल हुईं। याचिकाओं में सौदे की निर्णय प्रक्रिया, कीमत और ऑफसेट पार्टनर चयन पर सवाल उठाए गए। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की अगुवाई वाली बेंच ने याचिकाओं को परीक्षण उपरान्त ख़ारिज कर दिया। कोर्ट ने सौदे की प्रक्रिया पारदर्शी और नियम संगत पाया। लेकिन, इस के बाद भी कांग्रेस अध्यक्ष एक ईमानदार प्रधानमन्त्री को निशाना बना झूठ प्रचारित कर रहे हैं।
ज्ञापन सभा का संचालन जिला शासकीय अधिवक्ता (फ़ौजदारी) रामचन्द्र सिंह राजपूत ने किया। ज्ञापन भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रामावतार शुक्ला पढ़ा। राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन लेने आने के लिए जब जिलाधिकारी को सूचना भिजवाई गई तो जवाब आया कि 05 लोग चैम्बर में पहुंच दे दें। इसके बाद विवाद की स्थिति खड़ी हो गई। पार्टी के कुछ लोग डीएम को मौके पर ही बुलवाए जाने का दबाव जिलाध्यक्ष पर बनाने लगे। जिलाध्यक्ष पहले असमंजस में रहे और दबाव डीएम को मौके पर बुलवाने का दबाव बढ़ता रहा। इस बीच पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष रामावतार शुक्ला, वरिष्ठ नेता रामबली मिश्रा व इन्द्रेश्वर नाथ गुप्ता बीच का रास्ता बनाने में लग गए। तीनों मौके पर सिटी मजिस्ट्रेट के ज्ञापन लेने आने का फार्मूला ले कर आए, पर कार्यकर्ताओं ने ख़ारिज कर दिया।
कार्यकर्ताओं का एक विशेष वर्ग कलेक्टर दफ़्तर के सामने धरने पर बैठने का दबाव बनाने लगा। आख़िर, जिलाध्यक्ष पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं संग धरने पर बैठ गए। लेकिन, जिलाध्यक्ष की नसीहत पर जिलाधिकारी के विरुद्ध नारेबाजी नहीं हुई। भारत माता की जय व जय श्री राम के साथ केवल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के ख़िलाफ़ ही नारेबाजी होती रही। इसी बीच खबर आई कि सिटी मजिस्ट्रेट ज्ञापन लेने पहुंच रहे हैं, तो जिला कोषाध्यक्ष डॉ0 अनुज गुप्ता फ़ैल गए। बोले, डीएम नहीं तो सीडीओ से कम पर कुछ मंजूर नहीं। बहरहाल, भाजपाइयों की गहमा-गहमी के बीच ही सिटी मजिस्ट्रेट धरना स्थल पहुंचे और राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन भाजपा जिलाध्यक्ष सौरभ मिश्र से लिया। मांग की गई है, राष्ट्र की सुरक्षा से खिलवाड़ करने अंतर्राष्ट्रीय साख पर बट्टा लगाने की कोशिश करने वाले राहुल गांधी को राष्ट्रपति लोकसेवक के पद से मुक्त करें।
इस मौके पर पूर्व दर्जा राज्यमन्त्री मुकेश अग्रवाल, पूर्व जिलाध्यक्ष राम किशोर गुप्ता, राम बहादुर सिंह व राजीव रंजन मिश्रा, एससी/एसटी आयोग के पूर्व सदस्य पीके वर्मा, वरिष्ठ नेता अखिलेश वर्मा, नमामि गंगे के अवध क्षेत्र संयोजक अशोक सिंह, सदर नगर पालिकाध्यक्ष सुखसागर मिश्रा ‘मधुर’, नगर पंचायत बेनीगंज की अध्यक्ष के प्रतिनिधि राकेश वैश्य, ब्लॉक प्रमुख संघ जिलाध्यक्ष समीर सिंह, भाजपा नेता धीरेन्द्र प्रताप सिंह ‘सेनानी’ जिला उपाध्यक्ष आज़ाद भदौरिया, अजीत सिंह ‘बब्बन’ व अनुपमा सिंह, जिला महामन्त्री राजेश अग्निहोत्री व कर्मवीर सिंह चौहान, जिला मन्त्री रोहित वैश्य, जिला प्रचार मन्त्री सन्दीप अवस्थी, कार्यालय मन्त्री गौरव भदौरिया, मीडिया सम्पर्क प्रमुख प्रीतेश दीक्षित, जिला कार्यकारिणी सदस्य पारुल दीक्षित, पूर्व नगर अध्यक्ष सुभाष पाण्डेय, नगर अध्यक्ष अजीत उपाध्याय, पूर्व जिला मीडिया प्रभारी अमन मिश्रा, युवा मोर्चा निवर्तमान जिलाध्यक्ष ठाकुर सन्दीप सिंह, मोर्चा जिलाध्यक्ष आकाश सिंह, मोर्चा निवर्तमान जिला महामन्त्री अर्जुन सिंह, बजरंग दल के पूर्व जिला संयोजक सौरभ सिंह गौर, मोर्चा निवर्तमान जिला मन्त्री गौरव सिंह, अनुराग मिश्रा, सवायजपुर विधायक प्रतिनिधि रजनीश कुमार त्रिपाठी, शाहाबाद ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि नवनीत गुप्ता, टोडरपुर ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि श्यामू त्रिवेदी, छात्रसंघ पूर्व अध्यक्ष कुलभूषण सिंह, कार्यालय प्रभारी सत्यम शुक्ला, एडवोकेट सुनीत बाजपेई, युवा मोर्चा निवर्तमान नगर अध्यक्ष जीत ठाकुर, अतुल सिंह चाउंपुर, रामु चौहान, उदित पाठक, प्रियम मिश्रा, पूर्व सभासद अमित त्रिवेदी रानू, मुनि मिश्रा सभासद व अमल शुक्ला भरावन सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।