छठे दिन नन्हे मुन्नों ने सभी को किया सम्मोहित, कुछ समितियों ने किया गणेश विसर्जन भी

0
45

गजानन सेवा समिति के बंशीनगर में हो रहे गजानन महोत्सव के छठे दिन सुबह की शुरुआत आर्ट ऑफ़ लिविंग के योग शिविर से हुई। शाम को फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का आयोजन हुआ जिसमें नन्हे मुन्ने बच्चों ने एक से बढ़कर एक परिधानों में आकर सभी को मन्त्रमुग्ध कर दिया। कोई डॉक्टर बना हुआ था तो कोई गणेश। कोई मॉडल थी तो कोई रानी लक्ष्मी बाई। सभी अपने अपने अन्दाज़ में लुभाने की कोशिश कर रहे थे। बड़ी संख्या में नन्हे मुन्नों ने इस प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया था। आम बने हुए श्लोक निगम, डॉक्टर बने हुए अथर्व मिश्रा, प्रिन्सेज़ बनी हुई छोटी सी राम्या, झांसी की रानी बनी हुई जान्हवी, डॉल बनी हुई शारवी, कृष्ण बनी हुई आराध्या विशेष आकर्षण का केंद्र रहीं। कार्यक्रम के बाद सेठ एम आर जयपुरिया स्कूल के बच्चों ने बैंड के माध्यम से समां बांध दिया। महाआरती भी बैंड के माध्यम से हुई। जिसमें स्वर वैष्णवी रस्तोगी और विनायक शुक्ला ने दिए। शिवांश, अविरल, चिराग़, अभिजीत, दिव्यांश बैंड के हिस्से थे। इसे डायरेक्ट किया था जयपुरिया के शुभम ने।

इसके बाद हुए पुरस्कार वितरण व सम्मान समारोह में गायन, डांस व ग्रुप डांस प्रतियोगिताओं के प्रथम, द्वितीय व तृतीय विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। गायन के प्राइमरी वर्ग में प्रथम पुरस्कार आदित्य सिंह, द्वितीय पुरस्कार शिवांशी व तृतीय पुरस्कार सिद्धि द्विवेदी को मिला। जूनियर वर्ग में इशिता तिवारी को प्रथम, अन्वेषा तिवारी को द्वितीय व परी वर्मा को तृतीय पुरस्कार मिला। सीनियर वर्ग में अनुभव मिश्रा को प्रथम, अक्षय प्रताप सिंह को द्वितीय व प्रियांशु शर्मा को तृतीय पुरस्कार मिला। डांस के प्राइमरी वर्ग में ऐश्वर्या कश्यप को प्रथम, स्तुति सिंह को द्वितीय व आराध्या सिंह को तृतीय पुरस्कार मिला। जूनियर वर्ग में प्रथम पुरस्कार रंजना राजवंशी, द्वितीय पुरस्कार श्रद्धा पांडेय को व तृतीय पुरस्कार भाव्या सिंह को प्राप्त हुआ। सीनियर वर्ग में अंशिका सिंह को प्रथम, सौम्या गुप्ता को द्वितीय व आयुष गुप्ता को तृतीय पुरस्कार मिला। ग्रुप डांस के प्राइमरी वर्ग में द ग्लोबल स्कूल को प्रथम व डिज़्नी वर्ल्ड स्कूल को द्वितीय पुरस्कार प्राप्त हुआ। जूनियर वर्ग में न्यू हाइट स्कूल को प्रथम, द कैंब्रिज को द्वितीय व कृष्णा डांस एकेडेमी को तृतीय पुरस्कार मिला। सीनियर वर्ग में नटराज नृत्य कला केंद्र को प्रथम, सेठ एम आर जयपुरिया को द्वितीय व गुरु राम रॉय को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। साथ ही विशिष्ट सहयोगी रहे विद्यालयों को भी मोमेंटो दिए गए। विशिष्ट प्रतिभा सम्मान के तहत 8 प्रतिभाओं आस्था त्रिवेदी, नवनिता बासु, अनुषा त्रिवेदी, वैष्णवी रस्तोगी, महक रस्तोगी, विनायक शुक्ला, वैष्णवी भदौरिया, शौर्य श्रीवास्तव, तनुष चतुर्वेदी को सम्मानित किया गया। सुंदरकांड समिति व आर्ट ऑफ लिविंग टीम के साथ साथ विशेष सहयोग के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रभारी कुलदीप द्विवेदी, आलोकिता श्रीवास्तव, इला द्विवेदी, नवल किशोर द्विवेदी को सम्मानित किया गया। पुरस्कार वितरण विधायक शाहाबाद रजनी तिवारी द्वारा किया गया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि गजानन सेवा समिति प्रतिभाओं को मंच देने का कार्य कर रही है व उन्हें निखार रही है। संचालन कुलदीप द्विवेदी ने किया। इस अवसर पर संयोजक संजीव रस्तोगी, अनुज महेन्द्रा ‘सोनू’, जे के सेठ, लक्ष्मी सेठ, गरिमा चतुर्वेदी, अशोक सिंह ‘लालू’, प्रभाकर पाठक, दीपक कपूर, राजू मिश्रा, अनुपम बाजपेयी, नवल किशोर द्विवेदी, अमित बाजपेयी, मनोज राजपूत, दिनेश वर्मा, कपीश चतुर्वेदी, अवध बिहारी मिश्रा, लाल जी पलिया, संजय सिंह, अंशु द्विवेदी, नीरज शुक्ला, विपिन चंद्र ‘टिंकू’, सागर गुप्ता, अश्वनी गुप्ता, निखिल कांत श्रीवास्तव ‘अज्जू’ दीपक त्रिवेदी आदि मौजूद रहे।

गजानन समिति के अध्यक्ष मनीष चतुर्वेदी ने बताया कि 8 सितम्बर को प्रातः 10 बजे से विशाल शोभा यात्रा के साथ गजानन को बावन स्थित नहर में विसर्जित किया जाएगा।

श्री विनायक समिति के तत्वावधान में अग्रवाल धर्मशाला में चल रहे 20वें गणेश उत्सव के अंतिम दिन कल शोभायात्रा हरदोई के विभिन्न मार्गों से निकाली गई। यात्रा के दौरान सबसे आगे चल रहा अश्व आकर्षण का केंद्र रहा। हरदोई के विभिन्न मार्गो से निकली शोभा यात्रा में जगह-जगह लोगों ने इसको स्वागत किया और पुष्प वर्षा के साथ गणपति बप्पा वैभव के दाता को विदाई दी। आकर्षक बग्घियों में बैठे विभिन्न देवी देवताओं का रूप रखे हुए बच्चे शोभा यात्रा के आकर्षण को बढ़ा रहे थे। शोभा यात्रा के दौरान समिति के पदाधिकारी तथा सहयोगी सदस्य गौरव सिंह भदौरिया ने बताया कि गणपति बप्पा का विसर्जन नैमिषारण्य के व्याकरण आचार्य राजेश शास्त्री द्वारा विधि विधान से भैंसटा नदी पर किया गया तथा अगले बरस पुनः आने की कामना के साथ हरदोई के महाराजा को नम आंखों से विदाई दी गई।

श्री मंगल मूर्ति सेवा समिति के श्री गणेश पंडाल निकट रामदत्त चौराहा पुरानी नगर पालिका कैंपस में कल सायंकाल 7 बजे श्री गणेश जी की आरती एवं वंदना के उपरांत समाजसेवी राकेश अग्रवाल द्वारा पुरस्कार वितरण का कार्यक्रम सम्पन हुआ। सायंकाल 8 बजे राधा अष्टमी के उपलक्ष्य में श्री वृंदावन धाम से पधारी राधारसिक प्रिय किशोरी दीदी माध्वी शर्मा के मुखारबिन्दु से श्री श्याम एवं राधा रानी के सुंदर भजनों की प्रस्तुति का कार्यक्रम भी सम्पन हुआ। श्रोताओं ने सुश्री माध्वी द्वारा प्रस्तुत भजनों का आनंद लिया। इन सभी कार्यक्रम में समिति के अध्यक्ष योगेंद्र दत्त मिश्रा, धर्मेंद गुप्ता, लाली गुप्ता, सत्यम गुप्ता, पप्पू गुप्ता, लिटिल गुप्ता, सतेंद्र पाठक, शोभित त्रिवेदी, पुरुषोत्तम रस्तोगी, सुबोध टन्डन, गणेश गुप्ता, गणेश त्रिवेदी एवं अन्य सभी वरिष्ठ कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी मौजूद रहे।

आज प्रातः 11 बजे भव्य शोभायात्रा के साथ श्री गणपति बप्पा का विसर्जन शहर के प्रमुख मार्गो से होता हुआ देवभूमि नैमिषारण्य में होगा।

पाली(हरदोई)- शनिवार को नगर के पंथवारी देवी मंदिर पर आयोजित गणेश महोत्सव का मूर्ति विसर्जन के साथ समापन हो गया। विसर्जन शोभा यात्रा समिति के सदस्यों द्वारा बडी धूमधाम व मनमोहक झ़ाकियों के साथ नगर की विभिन्न गलियों, मार्गों से निकाली गई।

पाली में गणेश विसर्जन को जाते श्रद्धालु

गर्रा नदी पर अगले वर्ष पुनः आगमन की मनुहार के साथ विसर्जन किया गया। नगर के पंथवारी देवी मंदिर पर गणेश महोत्सव सेवा समिति के तत्वावधान में 2 सितंबर से प्रारंभ हुए गणेश महोत्सव का शनिवार को गणेश प्रतिमा के विसर्जन के साथ समापन हुआ। विसर्जन शोभा यात्रा बहुत ही धूमधाम से मनमोहक झांकियों के साथ उक्त मंदिर से प्रारंभ होकर नगर के विभिन्न मार्गों व गलियों से होकर गर्रा नदी पर पहुंची। जहाँ भक्तों ने अगले वर्ष पुनः आगमन की मनुहार के बाद गणपति प्रतिमा का विसर्जन किया। विसर्जन शोभा यात्रा में प्रशासनिक सहयोग सराहनीय रहा। थानाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह तोमर ने पुलिस बल के साथ सुरक्षा के मद्देनज़र चप्पे चप्पे पर नजर रखी। विसर्जन शोभायात्रा के दौरान भक्त पूरी तरह से भगवान श्री गणेश की भक्ति में डूबे नज़र आये। भक्तों ने संगीतमय भक्ति भजनों पर जमकर ठुमके लगाये। यात्रा के दौरान गणपति बप्पा मोरया के जयकारों से पूरा नगर गुंजायमान हो उठा। इस दौरान गणेश महोत्सव सेवा समिति के सदस्यों के अलावा हज़ारो की संख्या में नगर व क्षेत्रवासी मौजूद रहे।

श्री सिद्धि विनायक मराठा मण्डल एवम सर्राफ़ा कमेटी द्वारा संचालित महोत्सव में कल शाम 6 बजे से सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया। आज महाकाल झांकी का आयोजन किया जाएगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here