क्रिकेट विश्व कप 2019 : अति रोमांचक मुक़ाबले में इंग्लैंड ने पहली बार जीता वर्ल्ड कप

0
21

क्रिकेट के जन्मदाता इंग्लैंड ने आखिरकार आईसीसी विश्व कप-2019 जीत लिया है। उसने क्रिकेट इतिहास का सबसे रोमांचक फाइनल जीतकर विश्व कप की ट्रॉफी पर कब्जा किया। मेजबान इंग्लैंड ने फाइनल में न्यूजीलैंड को हराया। यह उसका पहला विश्व कप खिताब है। इंग्लैंड वनडे विश्व कप जीतने वाला छठा देश है। न्यूजीलैंड को लगातार दूसरे विश्व कप के फाइनल में हार का सामना करना पड़ा। न्यूजीलैंड की टीम पिछले विश्व कप के फाइनल में भी पहुंची थी, लेकिन तब वह ऑस्ट्रेलिया से हार गई थी। 46 दिन लंबे चले 12वें आईसीसी विश्व कप का फाइनल रोमांच के चरम तक पहुंचा। इस मैच में न्यूजीलैंड ने पहले बैटिंग करते हुए 8 विकेट पर 241 रन बनाए। इसके जवाब में इंग्लैंड की टीम 241 रन बनाकर ही आउट हो गई. मैच टाई हो गया। इसके बाद नतीजे के लिए सुपरओवर खेला गया। इसमें इंग्लैंड ने पहले बैटिंग करते हुए 15 रन बनाए। न्यूजीलैंड ने भी इसके जवाब में 15 रन ही बनाए। दोबारा टाई होने के बाद विजेता चुनने के लिए अगला आधार चुना गया। यह आधार ज्यादा बाउंड्री मारने का था। इंग्लैड ने मैच में ज्यादा बाउंड्री लगाई थीं। इसलिए उसे विजेता माना गया। 12वें आईसीसी विश्व कप का फाइनल रविवार (14 जुलाई) को क्रिकेट का मक्का कहे जाने वाले लॉर्ड्स स्टेडियम में खेला गया। न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन (Kane Williamson) ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट पर 241 रन बनाए। इसके जवाब में इंग्लैंड की टीम ने कड़ा संघर्ष किया। रोमांचक मैच में कभी पलड़ा इंग्लैंड का भारी लगता को कभी न्यूजीलैंड का। अंत में इंग्लैंड की टीम 241 रन बनाकर ही आउट हो गई।

न्यूजीलैंड की ओर से हेनरी निकोल्स ने सबसे अधिक 44 रन बनाए। टॉम लाथम ने 47, केन विलियम्सन ने 30 रन बनाए. मार्टन गप्टिल और जेम्स नीशाम ने 19-19 रन की पारियां खेलीं। डि ग्रैंडहोम ने 16 और रॉस टेलर ने 15 रन बनाए। इंग्लैंड की ओर से क्रिस वोक्स और लियाम प्लंकेट ने तीन-तीन विकेट लिए। जोफ्रा आर्चर व मार्क वुड को एक-एक विकेट मिला।

इसके जवाब में इंग्लैंड की ओर से जॉस बटलर ने 59 और बेन स्टोक्स ने 57 रन बनाए। जॉनी बेयरस्टो ने 36, व जेसन रॉय ने 17 रन का योगदान दिया। न्यूजीलैंड की ओर से लॉकी फर्ग्युसन ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए। डि ग्रैंडहोम, मैट हेनरी और जेम्स नीशाम को एक-एक विकेट मिला।

इंग्लैंड ने 48 साल पहले अपना पहला वनडे मैच खेला था। विश्व कप का फाइनल उसका 743वां मैच था। इस तरह उसे पहला विश्व कप जीतने के लिए 743 वनडे मैचों का इंतजार करना पड़ा। उसने 46 साल के अपने सफर में 768 वनडे मैच खेले हैं। लेकिन विश्व कप ट्रॉफी का उसका इंतजार अब जाकर ख़त्म हुआ।