हरदोई के नाम हुआ यूरेशिया एवं इण्डिया रिकार्ड : ज़िलाधिकारी

0
171
गिनीज़ बुक के लिए हुआ नामाकंन : पुलकित खरे
आज विश्व बालिका दिवस के अवसर पर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के अन्तर्गत ज़िलाधिकारी पुलकित खरे की एक और ऐतिहासिक पहल पर राजकीय इण्टर कॉलेज हरदोई के मैदान पर जनपद के विभिन्न जूनियर हाईस्कूल, हाईस्कूल, इण्टर कॉलेज, डिग्राी कॉलेज एवं कस्तूरबा विद्यालयों की 11 हज़ार से अधिक छात्राओं ने बालिका सशक्तिकरण पर अपनी उपस्थित दर्ज करायी।
इस अवसर पर कार्यक्रम की शुरूआत ‘उड़ चिरईया’ आदि गीतों से की गयी और इसके पश्चात 10101 बालिकाओं ने अपने द्वारा बनाई पेंटिग का प्रर्दशन हाथ उठाकर किया तथा एक मिनट तक एक दूसरे के हाथ में हाथ लेकर चेन बनाकर एवं एक दूसरे की पीठ थपथपा कर शाबासी दी। इसके उपरान्त ज़िलाधिकारी व अन्य अधिकारी, शिक्षक एवं बालिकाओं ने हाथ उठाकर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत शपथ ली कि हम सभी बेटों और बेटियों में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं होने देंगे तथा बेटियों को शिक्षा एवं उन्नति के समान अवसर प्राप्त करायेगें। बेटियों के सम्मान की रक्षा करेगें और बेटियों के सशक्तिकरण की दिशा में हर वो कदम उठायेगें जिससे उनकी सामाजिक प्रतिष्ठा एवं सम्मान में वृद्वि हो।
11,000 से अधिक छात्राएं स्थानीय जीआईसी ग्राउंड पर मौजूद रहीं
इस अवसर पर ज़िलाधिकारी पुलकित खरे ने कहा कि बालिका सशक्तिकरण के तहत उन्हें मज़बूत बनाने के लिए इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है और इस पहल से गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड के लिए भी प्रयास किया गया है और इस कार्यक्रम को देखने के बाद कई बार विश्व रेकार्ड बनाने वाले डा0 जगदीश पिल्लई ने गिनीज़ बुक के लिए नामाकंन कर लिया है। कार्यक्रम में अतिथि डा0 जगदीश पिल्लई ने ज़िलाधिकारी को यूरेशिया एवं इंडिया रेकॉर्ड से सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होने ज्वाइंट मजिस्ट्रेट एकता सिंह, ज़िला विद्यालय निरीक्षक, ज़िला बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमन्त राव को भी सम्मानित किया। इसके उपरान्त ज़िलाधिकारी, डा0 पिल्लई, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने बालिकाओं द्वारा बनाये चित्रों का भी अवलोकन किया।