देश में लोकसभा चुनाव 7 चरण में होगा। पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल, दूसरे का 18 अप्रैल, 23 अप्रैल को तीसरे चरण का, चौथा 29 अप्रैल, 6 मई पांचवां, 12 मई को छठा, 19 मई को सातवें चरण का मतदान होगा। मतगणना 23 मई को होगी। लोकसभा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा रविवार शाम को दिल्ली के विज्ञान भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने दी।

चुनाव आयुक्त ने बताया कि इस बार 90 करोड मतदाता, 10 लाख मतदान केन्द्रों पर मतदान करेंगे। इस बार 18-19 साल के युवा वोटरों की संख्या करीब डेढ़ करोड़ बढ़ी है। इसके साथ ही सभी मतदान केन्द्रों पर वीवीपीएटी मशीन लगेगी। वीवीपीएटी बंडल की निगरानी जीपीएस से होगी। मतदान करने के बाद सभी को पर्ची मिलेगी। ईवीएम में उम्मीदवारों की तस्वीरें भी होगी। मतदान के 48 घंटे पहले प्रचार बंद हो जाएगा।

इसके साथ ही चुनाव आयुक्त ने बताया कि संवेदनशील बूथ की खास सुरक्षा व्यवस्था होगी। मतदान केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे से निगरानी होगी। आचार संहित उल्लंघन के लिए ऐप लॉन्च की है। इस पर शिकायत मिलने के 100 मिनट में कार्रवाई होगी।