हरदोई : सूबे के काबीना मन्त्री ओपी राजभर सहयोगी भाजपा को लपेटने से नहीं आ रहे बाज

0
52
हरदोई : सूबे के काबीना मन्त्री ओपी राजभर सहयोगी भाजपा को लपेटने से नहीं आ रहे बाज
की धुलाई : मोदी सरकार ने खर्च किए ₹38,000 करोड़, फिर भी नहीं हो पाई गंगा की सफ़ाई
कसा तंज : भाजपा को लगता शिवपाल बनवा देंगे सरकार, इसीलिए हो रही मेहरबानियों की बौछार
रखा टुकड़ा : एससी/एसटी एक्ट में संशोधन से नाराज सवर्णों को मैनेज करने को राजा भैया को महत्व
आज रसखान प्रेक्षागृह में अर्कवंशी-राजभर सामाजिक एकता सम्मेलन में भाग लेने आए मुख्य अतिथि पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांग सशक्तिकरण मन्त्री/भारतीय समाज पार्टी प्रमुख ओमप्रकाश राजभर ने अपनी ही सरकार के कार्य-कलापों को कठघरे में खड़ा करते हुए जम कर हमला बोला। कहा, अर्कवंशी-राजभर समुदाय को राजनीति में अपनी हिस्सेदारी चाहिए तो आवाज उठानी होगी। अन्यथा, अभी तक जैसे वोट लेकर छोड़ दिये जाते थे, फिर वही पुनरावृत्ति होगी। हक़-हकूक की आवाज बुलंद की तो हिस्सेदारी देने के लिए लोग चिरौरी करने आएंगे।
राजभर ने अर्कवंशी समाज के लोगों का आह्वान किया कि अभी तक बसपा, सपा, कांग्रेस और भाजपा की रैलियों में जाकर कुर्सी भरने का काम करते थे, इसको बन्द कर दो। इन पार्टियों ने आप को वोट बैंक मान कर लड़ाया और इस्तेमाल कर फेंक दिया। कहा, अपनी कुर्सी भरो, फिर देखो आपके समाज का भला होगा। अब समाज जाग गया है और अपनी हिस्सेदारी के लिए एकजुट हो आवाज उठाओ। कहा, चुनाव आते ही मंदिर मस्जिद मुद्दा याद आ जाता है। सवाल किया, मंदिर मस्जिद से गरीबों को क्या लाभ ??? उनके लिए शिक्षा,स्वास्थ्य व रोजगार पर काम करो, जिससे उनका भला हो। लेकिन, मंदिर मस्जिद के नाम पर गरीब जनता को लड़ाया और मरवाया जाता है। कभी कोई बड़ा नेता दंगों में नही मारा जाता। इसलिए जाग जाओ और ऐसे मामलों में ना पड़ कर हक के लिए लड़ो।
राजभर ने मोदी व योगी सरकार के काम-काज पर सवाल खड़े किए। कहा, गंगा सफाई पर ₹38 हजार करोड़ खर्च कर दिए गए पर दशा जस की तस है। यही पैसा हमे देते तो गरीबों का कल्याण कर देते। कहा, सरकार के एंटी भू-माफिया कानून के तहत केवल गरीबों को ही उजाड़ा गया है। सेक्यूलर मोर्चा के संयोजक शिवपाल यादव पर अपनी सरकार की उदारता को लेकर भी हमला किया। कहा, शिवपाल जब अकेले चले थे तो कुछ दिन उनको चलने देते, जिससे सपा से नाराज लोग उनके साथ जुड़ जाते। लेकिन सरकार को लगता है कि शिवपाल दोबारा सरकार बनवा सकते हैं। इसलिए उनको जेड श्रेणी की सुरक्षा और बड़ा बंगला दिया गया। जबकि इसी सरकार ने शिवपाल की सुरक्षा वापस ली थी। कहा, एससी एसटी एक्ट में संसोधन से नाराज सवर्णों को मैनेज करने को राजा भैया को भी महत्व दिया जा रहा है।
कार्यक्रम को अखिल भारतीय अर्कवंशी क्षत्रिय महासंघ ट्रस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश सिंह अर्कवंशी और प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह अर्कवंशी ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम की शुरुआत में अर्कवंशी समाज के युवा एक्टिविस्ट सुनील अर्कवंशी ने मुख्य अतिथि पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांग सशक्तिकरण मन्त्री/भारतीय समाज पार्टी प्रमुख ओमप्रकाश राजभर को चांदी का मुकुट पहनाया। अर्कवंशी समाज के लोगों ने राजभर को भारी-भरकम फूल-माला पहना अभिनन्दन किया।