किसान कल्याण रैली : रोज़ा के रेलवे ग्राउण्ड पर हरदोई की धमक के फुलफ्रूफ इंतजामात

0
34

भाजपा से सरकारी मशीनरी तक ने खोल दिए सभी घोड़े, हर बूथ से 05 किसान ले जाने की बात

रैली की पूर्वसंध्या पर अवध क्षेत्र अध्यक्ष ने हरदोई पहुंच की समीक्षा, मीडिया से भी जाने हालात

कल बग़ल के जनपद शाहजहांपुर के रोज़ा रेलवे ग्राउण्ड पर प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी किसान कल्याण रैली को सम्बोधित करेंगे। रैली में शाहजहांपुर ही नहीं, अगल-बग़ल के ज़िलों के किसानों की भागीदारी रहेगी, जिसके लिए सम्बन्धित ज़िलों का संगठन, जन प्रतिनिधि, सहकारी संस्थाओं के प्रमुख और क्षेत्रीय संगठन के ज़िम्मेदार पिछले काफी दिनों से ज़मीन पर पसीना बहा रहे हैं। रैली में किसानों को ले जाने को लेकर मण्डल, सेक्टर से लेकर बूथ स्तर तक क़वायद हुई। मण्डल, सेक्टर और बूथ तक रैली प्रभारी नियुक्त हुए। रैली की तैयारी को लेकर आज अवध क्षेत्र अध्यक्ष सुरेश चन्द्र तिवारी ने हरदोई संगठन संग समीक्षा की। साथ ही, किसानों के कल्याण की दिशा में पत्रकारों से सुझाव मांगे।

क्षेत्रीय अध्यक्ष तिवारी ने कहा कि शाहहजहांपुर बृज क्षेत्र में आता है। लेकिन, शाहजहांपुर से सटे अन्य क्षेत्रों से सम्बद्ध जिलों से भी किसानों की रैली में भागीदारी रहेगी। अवध क्षेत्र के 14 में 03 जिलों हरदोई, सीतापुर और लखीमपुर खीरी से 01 लाख किसान व कार्यकर्ता कल रोज़ा में पार्टी की किसान कल्याण रैली में भागीदारी करेंगे और किसानों के ₹01 लाख तक ऋण मोचन और खरीफ़ की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य डेढ़ गुना बढ़ाए जाने के लिए धन्यवाद ज्ञापित करेंगे। तिवारी ने कहा, पहली बार ऐसा हुआ कि गेहूं की सरकारी खरीद बिचौलिया मुक्त और भुगतान सीधे खाते में होने से भ्रष्टाचार मुक्त हुई।

तिवारी से सवाल हुआ कि इसके बावजूद खरीद एजेंसियों के ज़िम्मेदारों ने किसानों को पसीना पसीना किया। किसानों के खातों में तो ₹1750/क्विंटल का भुगतान पहुंचा, पर खरीद केन्द्रों पर ₹250 तक की उगाही पहले कर ली गई। मण्डियों में पहुंचे गेहूं की शत प्रतिशत खरीद हुई। शिकायतें हुईं, प्रशासन ने आख्या मांगी, जो अभी तक नहीं दी गई, कार्यवाही तो दूर की बात रही। क्षेत्रीय अध्यक्ष के पूछने पर जिलाध्यक्ष श्री कृष्ण शास्त्री ने माना कि ऐसी शिकायतें उनके संज्ञान में आईं और उन्होंने प्रशासन से प्रभावी कार्यवाही को कहा। इस पर तिवारी ने कहा, समूचा प्रकरण मुख्यमंत्री के सामने रखेंगे और कार्यवाही सुनिश्चित कराएंगे।

सवाल हुआ, खरीफ़ की फसलों में धान के अलावा ज्वार, बाजरा, मक्का, उड़द, तिल आदि फसलें भी आती हैं। सरकारी खरीद केवल धान की होगी। ऐसे में खरीफ़ की अन्य फसलों पर डेढ़ गुना बढ़े न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ कैसे मिलेगा ??? यह भी पूछा गया, सरकार द्वारा गेहूं और धान का निर्धारित समर्थन मूल्य देने को व्यापारी बाध्य क्यों नहीं होते ??? आलू की मण्डी में बिक्री पर टैक्स की चोरी क्यों नहीं थमती ??? जवाब में तिवारी ने इन मसलों को नोट किया और कहा, निश्चित ही ये विषय विचारणीय हैं। इस दिशा में शासन को अवगत कराते हुए ठोस कार्य योजना का अनुरोध किया जाएगा।

गन्ना मूल्य भुगतान 14 दिन में होने की बाध्यता होने के बाद भी महीनों से लटका होने के सवाल का जवाब किसान मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष सुधीर सिंह सिद्धू ने दिया। कहा, भुगतान में तकनीकी अड़चन यह है कि शासन द्वारा खरीदी गई चीनी का भुगतान शेष है और भुगतान होते ही किसानों का भुगतान करने की बात मिल प्रबन्धन कह रहे हैं। ध्यान दिलाया गया, चीनी मिलें खुले बाज़ार में चीनी बेच कर लाभ कमा रही हैं, ऐसे में सरकारी भुगतान लटका होने की बात महज बहाना है। सवाल उठा, किसानों के बकाए पर मिलों द्वारा करोड़ों रुपए ब्याज बनाने का। सिद्धू ने कहा, पूरा प्रयास करेंगे कि किसानों को मय ब्याज के भुगतान मिले।

बहरहाल, सिद्धू ने दावा किया कि अवध क्षेत्र के 03 जिलों से 01 लाख किसानों/कार्यकर्ताओं के रैली में जाने का आधा लक्ष्य हरदोई जिले से ही पूरा हो जाएगा। बताया, प्रत्येक न्याय पंचायत में औसतन 2,500 ऋण मोचन लाभार्थी हैं। इस तथ्य की छाया में प्रत्येक बूथ से 05 लाभार्थी किसानों की रैली में भागीदारी सुनिश्चित कराई जा रही है। बूथों से चौपहिया वाहनों से किसानों को सेक्टर तक पहुंचाया जाएगा और वहां से बसों में बिठा रैली के लिए रवाना किया जाएगा। हरदोई में रैली के वाहन प्रभारी प्रदीप कुमार ‘पीके वर्मा’ ने बताया, किसानों को ले जाने के लिए छोटी-बड़ी कुल 522 बसों की व्यवस्था पार्टी ने की है। इसके अलावा 1954 चौपहिया वाहन भी रहेंगे।

प्रेस कॉन्फ़्रेंस में प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अखिलेश पाठक, क्षेत्रीय मन्त्री संजय गुप्ता, जिला उपाध्यक्ष अजीत सिंह बब्बन, जिला महामन्त्री राजेश अग्निहोत्री, रामचन्द्र सिंह राजपूत, जगन्नाथ राजवंशी व कर्मवीर सिंह, सदर विधानसभा क्षेत्र से पार्टी प्रत्याशी रहे राजाबक्स सिंह, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष सन्दीप सिंह, मीडिया प्रभारी गांगेश पाठक, संजय सिंह गुड्डू, नीरज तिवारी, सौरभ सिंह गौर, कार्यालय प्रभारी सत्यम शुक्ला आदि मौजूद रहे।