मौनी अमावस्या से राजनीतिक पारी शुरू करेंगी प्रियंका

मौनी अमावस्या के दिन कांग्रेस महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गाँधी यूपी में अपनी सियासी पारी की शुरुआत करेंगी। प्रियंका गाँधी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का चुनाव अभियान शुरू करने से पहले कुंभ के मौक़े पर संगम में डुबकी भी लगाएँगी और अखाड़े में संतों के साथ बैठकर धर्म चर्चा भी करेंगी। प्रियंका गाँधी के साथ कुंभ में डुबकी लगाने उनके भाई और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी भी आएँगे।

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के अनुसार अभी प्रियंका व राहुल के कुंभ आने की तारीख तय नहीं हुई है पर इसे फरवरी के पहले सप्ताह में किसी भी दिन रखा जा सकता है। कांग्रेस की प्रयाग इकाई को मौनी अमावस्या से लेकर बसंत पंचमी तक के बीच का समय तैयारियों के लिए दिया गया है। इस दौरान किसी भी दिन राहुल और प्रियंका का कार्यक्रम लग सकता है।

अभी तक के कार्यक्रम के मुताबिक़ नवनियुक्त महासचिव मौनी अमावस्या के दिन यानी चार फरवरी को पत्रकारों के साथ बातचीत कर पूर्वी उत्तर प्रदेश को लेकर कांग्रेस की योजनाओं का ख़ुलासा करेंगी। उसी दिन प्रियंका पार्टी महासचिव का पद भार भी ग्रहण करेंगी।

राहुल-प्रियंका के कुंभ में आने को लेकर उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। कहा जा रहा है कि मौनी अमावस्या के बाद दोनों नेता प्रयागराज आएँगे। माना जा रहा है कि 9 या 10 फरवरी को राहुल-प्रियंका संगम में डुबकी लगाने आ सकते हैं। इस दौरान उनकी सभा कराने की भी तैयारी है। इस पर प्रदेश नेतृत्व ने काम शुरू कर दिया है। कुंभ यात्रा के दौरान राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी किसी अखाड़े के शिविर में जाकर संतों से भी मुलाकात कर सकते हैं।

फेसबुक से टिप्पणी करें