महाराष्ट्र में महाबलेश्वर के नज़दीक एक बस 500 फीट गहरी खाई में गिर गई। बस में 33 लोग सवार थे। इस भीषण दुर्घटना में बस में सवार सभी यात्रियों की मौत हो गई। हादसा शनिवार सुबह रायगढ़ और सतारा ज़िले की सीमा पर हुआ। बस दापोली एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी से छात्रों को लेकर रायगढ़ के लिए रवाना हुई थी।
फिलहाल हादसे की वजह साफ नहीं हो पाई है। वहीं, राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया गया है। खाई की गहराई अधिक होने की वजह से राहत और बचाव कार्य में दिक्कत आ रही है।
इससे पहले गुरुवार को कोल्हापुर में 17 लोगों से भरी मिनी बस नदी में गिर गई थी। पश्चिमी महाराष्ट्र के कोल्हापुर में शिवाजी पुल पर हुए इस हादसे में 13 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि बाकी लोगों को बचा लिया गया था।
हादसे में घायल इन लोगों को कोल्हापुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मिनी बस में सवार ये सभी यात्री भगवान गणेश की पूजा करके वापस लौट रहे थे, तभी बस के ड्राइवर ने अपना नियंत्रण खो दिया और बस पंचगंगा नदी में जा गिरी। बताया जा रहा है कि ड्राइवर नशे में था।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर इस हादसे पर दुख जताया और मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर की। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी इस घटना पर दुख जताते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि इस घटना से वह काफी दुखी हैं और घायलों के जल्द ठीक होने की कामना करते हैं।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट इस हादसे पर दुख जताया। साथ ही उन्होंने कहा, ‘मैं कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि इस हादसे में ज़ख्मी और मारे गए लोगों के परिवारों की जो भी संभव मदद हो, करें’