नेचुरोपैथ डॉ० राजेश मिश्र की ‘मौन संदेश यात्रा’ जिले के हरियावाँ, पिहानी, टड़ियावाँ और अहिरोरी ब्लाक के स्कूलों में पहुँची। अधिकांश विद्यालयों में बरसात की वजह से बच्चों की संख्या कम थी।

डॉ० मिश्र ने विजय भाई को यात्रा-प्रवक्ता बनाया है। उन्होंने संदेश पढ़ा तथा उसके अर्थ को समझाया। कहा मौन से मेमोरी बढ़ती है इसलिए बसन्त पंचमी के दिन मौन रहकर माँ सरस्वती की उपासना करें। ग्रामोदय इण्टर कॉलेज खेरिया, जूनियर हाईस्कूल शाहपुर बिनौरा और सर्वोदय आश्रम टड़ियावां में बच्चों को मौन का अर्थ समझाया गया। इसके साथ-साथ मौन सन्देश पत्र वितरित किए गये। सर्वोदय आश्रम की सभी आवासीय छात्रायें और शिक्षिकायें बसन्त पंचमी को हवनोपरान्त मौनव्रत रखेंगी। आश्रम की अध्यक्ष उर्मिला जी ने कहा मौन में बड़ी ताकत है। सर्वोदयी अलख भाई ने कहा कि डॉक्टर साहब ने नया नेत्र दिया है। इससे सभी का लाभ होगा।

इस अवसर पर सुशील मिश्र, अभय शंकर मिश्र, ईश्वर चन्द्र विद्यासागर, अम्बुज सिंह,रामकिशोर सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

फेसबुक से टिप्पणी करें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here