माया के करीबी रामवीर उपाध्याय की हुई छुट्टी

0
31

बसपा प्रमुख मायावती के करीबी पर बड़ी कार्रवाई की गई है। बसपा के पूर्व मंत्री व कद्दावर नेता रामवीर उपाध्याय को बसपा से बाहर कर दिया है। इसके अलावा पार्टी के मुख्य सचेतक पद से भी हटा दिया है।

विधायक रामवीर उपाध्याय पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप है। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मेवालाल गौतम ने पत्र जारी कर उन्हें पार्टी से निलंबित करने की जानकारी दी गई है।

पार्टी महासचिव मेवालाल गौतम के पत्र के अनुसार, रामवीर उपाध्याय ने न केवल लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल हुए, बल्कि चेतावनी के बाद भी उन्होंने लोकसभा चुनाव में आगरा, फतेहपुर सीकरी, अलीगढ़ समेत कई सीटों पर पार्टी प्रत्याशी का खुलकर विरोध किया और विरोधी पार्टियों के प्रत्याशियों का समर्थन किया।