अंतर्ध्वनि महिला विंग की वर्कशॉप का नौवां दिन : मुख्य आकर्षण रहा फ्रूट डेकोरेशन

0
52

अंतर्ध्वनि महिला विंग के तत्वावधान में स्थानीय वैभव लॉन में 25 मई से शुरू हुई 10 दिवसीय समर वर्कशॉप के नौवें दिन अभ्यास के साथ साथ विशेष आकर्षण का केंद्र ‘फ़ूड डेकोरेशन’ रहा।

नौवें दिन की शुरुआत प्रशिक्षक वाई पी गुप्ता व मनोरमा गुप्ता ने योगा से करते हुए प्रतिभागियों से अभ्यास कराया और कहा कि योगा ही स्वस्थ जीवन की कुंजी है। क्लासिकल डांस वर्कशॉप की प्रशिक्षक निशा ज्योति ने प्रतिभागियों को विशेष टिप्स दिए और कहा कि इस वर्कशॉप के माध्यम से कई उदीयमान प्रतिभाएं सामने आई हैं। वेस्टर्न डांस के प्राइमरी वर्ग के प्रशिक्षक सुभाष व जूनियर वर्ग के प्रशिक्षक शिवा गुप्ता ने सराहना करते हुए कहा कि जिस तरह से कम दिनों में प्रतिभागियों ने सीखने की ललक दिखाई है, उससे उनके उज्ज्वल भविष्य के दर्शन होते हैं। थिएटर वर्कशॉप में प्रशिक्षक कुलदीप द्विवेदी ने प्रतिभागियों द्वारा लिखी स्क्रिप्ट पर अभिनय कराया और कमियों को दूर कराते हुए पुनः रिहर्सल कराई। आर्ट की वर्कशॉप जाने माने आर्ट प्रशिक्षक शैलेन्द्र श्रीवास्तव ने ली। उन्होंने प्रतोभागियों को लैंड स्केप, फुल स्केप का प्रशिक्षण दिया और कहा कि कला तो जन्मजात सभी में होती है, उसे उभारने में प्रशिक्षक की महती भूमिका होती है। क्राफ्ट वर्कशॉप की प्रशिक्षक इंदिरा द्विवेदी ने प्रतिभागियों को वॉल हैंगिंग व कप से बने पॉट को डेकोरेट करवाया। नौवें दिन की कार्यशाला का मुख्य आकर्षण ‘फ्रूट डेकोरेशन’ रहा। इसके अंतर्गत प्रशिक्षक पल्लवी सिंह ने प्रतिभागियों को विभिन्न तरह के फलों से फूल, पेड़, टोकरी व मछली का आकार बनाना सिखाया। आयुषी शर्मा, संस्कृति पाठक, सिमोन कौर, अनन्या मिश्रा और महुआ गुप्ता ने बताया कि फलों से विभिन्न तरह की आकृतियां बनाना सीखना उनके लिए नया अनुभव था।

इस अवसर पर अध्यक्ष इला द्विवेदी ने बताया कि वर्कशॉप के दसवें दिन ‘फन डे’ मनाया जाएगा जिसमें वर्कशॉप में अभ्यास के साथ साथ विभिन्न तरह के खेल भी खिलवाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि 4 जून को 9 बजे से सभी प्रतिभागी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे, तत्पश्चात उन्हें प्रमाण पत्र वितरित किए जाएंगे।

इस अवसर पर सचिव परिणिता बाजपेई, सांस्कृतिक सचिव अनीता मिश्रा, हरप्रीत कौर एडवोकेट, सुमन सिंह, बबिता श्रीवास्तव, स्वाति गुप्ता, प्रियंका त्रिपाठी, मुस्कान सिंह, अमिताभ शुक्ला, राकेश पांडेय, दानिश किरमानी, चिंतन बाजपेई, नवल किशोर, राज चौहान, महेंद्र श्रीवास्तव, विमलेंदु वर्मा आदि मौजूद रहे।