निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों अनुसार निर्वाचन सम्पन्न कराना है : जिला निर्वाचन अधिकारी

0
23

सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं सेक्टर पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से अपने क्षेत्रों का भ्रमण कर लें : पुलकित खरे

अरातक तत्वों को चिन्हित करते हुए प्रभावी कार्यवाही करें : पुलिस अधीक्षक

लोक सभा सामान्य निर्वाचन 2019 के सम्बन्ध में रसखान प्रेक्षागृह में आयोजित सेक्टर मजिस्ट्रेट व पुलिस सेक्टर अधिकारियों के प्रशिक्षण को सम्बोधित करते हुए जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी पुलकित खरे ने कहा कि सभी अधिकारी निर्वाचन आयोग के दिये दिशा निर्देशों को ठीक से पढ़ लें क्योंकि उसी के अनुसार निर्वाचन सम्पन्न कराना है। उन्होने कहा कि सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने सभी बूथों का कल भ्रमण कर लें और जिस विद्यालय में बूथ बने हैं वहां पानी, बिजली, रैंप, फर्नीचर आदि की व्यवस्था को देख लें और जहां भी किसी प्रकार की कमी है उसकी सूचना कल शाम तक उपलब्ध करायें।

जिलाधिकारी ने कहा कि सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने जोनल मजिस्ट्रेट का मोबाइल नम्बर अपने पास रखें तथा किसी प्रकार की दिक्कत होने पर उन्हें तत्काल सूचना दें। इसके साथ ही सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं सेक्टर पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से अपने क्षेत्रों का भ्रमण कर लें और गांव के अराजक एवं अपराधिक तत्वों की सूची तैयार करें जो निर्वाचन में ग्रामीणों को धमकाकर व प्रलोभन देकर किसी एक के पक्ष में मतदान करने को कहते है तथा अधिकारी गांव के प्रधान एवं 20 सम्भ्रान्त व्यक्तियों के नाम व मोबाइल नम्बर अपने पास रखें और इसके साथ ही सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट कल बूथों के निरीक्षण के दौरान यह भी तय करेगें कि एक बूथ से दूसरे बूथ तक जाने में कितना समय लगता है। और समस्त बूथों की कितनी दूरी और कितना समय लगता है इसकी भी सूचना उपलब्ध करायेगें।

इस अवसर पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभी पुलिस सेक्टर अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के अराजक तत्वों को प्राथमिकता पर चिन्हित करें और उनके खिलाफ प्रभावी कार्यवाही करें तथा अपने क्षेत्र की प्रिंटिंग प्रेस को भी चिन्हित करने के साथ निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार समस्त लाईसेंसो, शस्त्रों को जमा कराना सुनिश्चित करेगें। उन्होने कहा कि पुलिस अधिकारी यह भी देख लें कि जिन स्थानों पर पुलिस कम्पनियों के ठहरने की व्यवस्था की जा रही है वहां मानक के अनुसार शौचालय, पानी एवं कमरों आदि की व्यवस्था दुरूस्त हो। उन्होने कहा कि जहां पुलिस कंपनी रूकेगी वहां एक कम्पनी के लिए 10 शौचालय एवं 06 कमरों की व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होने कहा कि सभी पुलिस अधिकारी यह सुनिश्चित कर लें कि निर्वाचन कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी और कड़ी कार्यवाही की जायेगी।