उत्तर प्रदेश में जिस तरह से कांग्रेस ने सपा-बसपा गठबंधन को ठेंगा दिखाते हुए अकेले दम पर चुनाव लड़ने का फैसला लिया और अपने उम्मीदवारों की घोषणा की उसके बाद पहली बार सपा मुखिया अखिलेश यादव ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है। अखिलेश ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस प्रदेश में खुद की जमीन मजबूत करने में पर ज्यादा ध्यान दे रही थी नाकि नरेंद्र मोदी को चुनाव हराने पर।

यह पहली बार है जब अखिलेश यादव ने खुलकर कांग्रेस पर हमला किया है। कांग्रेस ने जिस तरह से दूसरी बार उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की है उसके बाद अखिलेश ने कांग्रेस के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। गुरुवार को अखिलेश यादव ने कहा कि कांग्रेस को सपा-बसपा गठबंधन में शामिल होना चाहिए था, अगर वह सच में भाजपा को हराना चाहती थी।

उन्होंने कहा कि गठबंधन की तैयारी बहुत पहले शुरू हो गई थी। सपा और बसपा के कार्यकर्ताओं ने गोरखपुर उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार को हराने में बहुत मेहनत की है। सपा और बसपा ने अपने हितों को अलग रखकर गठबंधन किया है। देश चाहता है कि मोदी सरकार को हटाया जाए, लेकिन कांग्रेस सिर्फ भाजपा को मजबूत करने में लगी है।