भारत-पाक विदेश मंत्रियों की प्रस्तावित बैठक हुई रद्द

0
15
न्यूयॉर्क में होने वाली भारत-पाक वार्ता को लेकर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है।
पाक की आतंकी परस्त नीति पर कड़ा रुख अपनाते हुए भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों की मुलाकात रद्द कर दी गई है। बता दें कि विदेश मंत्रालय पाकिस्तान के साथ वार्ता को लेकर पुनर्विचार कर रहा था। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की ओर से बातचीत फिर से शुरू करने की गुजारिश के बाद भारत की तरफ से रुख साफ किया गया था कि जब तक आतंकवाद रहेगा, बातचीत नहीं होगी।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है कि पाकिस्तान की करनी और कथनी में बहुत फर्क है। इसी के साथ भारत ने ये भी कहा है कि इमरान का असली चेहरा बेनकाब हो गया है।
सामने आया इमरान का असली चेहरा
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ”जम्मू-कश्मीर में भारतीय जवान की हाल में हुई जघन्य हत्या और पाकिस्तान की ओर से आतंकवाद का महिमामंडन करने का निर्णय दिखाता है कि वह अपना रास्ता कभी नहीं बदलेगा। यह अब स्पष्ट है कि नई शुरुआत के लिए वार्ता का प्रस्ताव देने के पीछे पाकिस्तान के शैतानी एजेंडे का पर्दाफाश हो गया और पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान का असली चेहरा दुनिया के सामने आ गया है। ऐसे माहौल में पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह की वार्ता का कोई मतलब नहीं है। बदले हुए परिदृश्य में, न्यूयार्क में भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच मुलाकात नहीं होगी।”
इसलिए रद्द हुई बैठक
पिछले तीन दिनों में बीएसएफ के जवान नरेंद्र सिंह के साथ कायराना हरकत और हत्या और इसके बाद जम्मू कश्मीर के तीन पुलिस कर्मियों की पाकिस्तान के आतंकियों की तरफ से अपहरण और हत्या को सरकार ने बैठक की माहौल के खिलाफ माना है। इसलिये न्यूयॉर्क में होने वाली भारत-पाक की बैठक पर ये बड़ा एलान किया गया है।