राज्यसभा सांसद व्हाट्सऐप पर हुए बैन, जानें कैसे बच सकते हैं आप

0
78

इंस्टैंट मैसेजिंग एप व्हाट्सएप ने तेलगू देशम पार्टी के राज्यसभा एमपी सीएम रमेश को अपने प्लेटफॉर्म पर बैन कर दिया है। हालांकि सांसद का कहना है कि उन्होंने व्हाट्सएप की किसी भी टर्म और कंडिशन का उलंघन नहीं किया है, जिसके लिए उन्हें बैन किया जाए। इस मामले में व्हाट्सएप ने अभी तक कोई रिप्लाई नहीं किया है। बता दें कि भारत में व्हाट्सएप पर अफवाह और घृणा वाले मैसेज तेजी से भेजा जा रहा है।

कंपनी ने प्लेटफॉर्म को नागरिकों के लिए सुरक्षित करने के लिए तरह तरह के बदलाव किए हैं। यदि व्हाट्सएप किसी राज्यसभा सदस्य को बैन कर सकता है, तो वह किसी आम यूजर्स को भी बैन कर सकता है। तो आइए जानते हैं व्हाट्सएप किन कारणों से आपको बैन कर सकता है।

व्हाट्सऐप के अनुसार यदि किसी अकाउंट के खिलाफ किसी यूज़र ने रिपोर्ट की है और अकाउंट ने व्हाट्सएप की टर्म और कंडिशन का उल्लंघन किया है, तो उसे बैन किया जा सकता है। इसी प्रकार किसी यूजर को गैरकानूनी, आपत्तिजनक, अपमानजनक और धमकी वाले मैसेज भेजने, हिंसक क्राइम को बढ़ावा देने वाले मैसेज भेजने, अन्य यूजर का फेक अकाउंट बानाने, कॉन्टेक्ट लिस्ट में शामिल नहीं होने पर भी किसी को अत्यधिक मैसेज भेजने, व्हाट्सएप के कोर कोड में बदलाव की कोशिश करने पर भी बैन किया जा सकता है।

इतना ही नहीं व्हाट्सऐप का इस्तेमाल वायरस या मालवेयर भेजने के लिए करने, किसी यूजर पर नजर रखना और व्हाट्सएप सर्वर को हैक करने की कोशिश करने, बहुत से यूजर्स द्वारा आपको ब्लॉक किए जाने पर, आपके खिलाफ अत्यधिक रिपोर्ट दर्ज होने पर व थर्ड पार्टी ऐप जैसे व्हाट्सएप प्लस का इस्तेमाल भी आपको बैन कर सकता है।