किडनैपिंग का मनगढन्त आरोप लगाने वाले को लाएं कानून के कठघरे में

0
24
हरदोई : सदर सांसद व गोपामऊ विधायक ने की पुलिस कप्तान से मुलाक़ात
बेबुनियाद प्रकरण की अतिरेकीय रिपोर्टिंग करने वाली पत्रिका के सम्पादक पर भी कार्यवाही को दिया है पत्र
टड़ियावां थाना क्षेत्र के चिन्तनपुरवा गांव निवासी राघवेन्द्र सिंह ने गुरुवार को आईजीआरएस पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई थी। उसका कहना था, सदर सांसद और विधायक के गांव पुष्पताली के राजेश से उसका जमीनी विवाद है और प्रकरण कोर्ट में है। इसके बाद भी राजेश विवादित भूमि पर निर्माण करा रहा था, जिसकी शिकायत 04 सितम्बर को एसडीएम सदर से की थी। 06 सितम्बर को राजस्व टीम व टड़ियावां पुलिस की मौजूदगी के बाद भी निर्माण हो रहा था। पिता सियाराम ने विरोध किया तो मौके पर मौजूद सांसद अंशुल वर्मा, विधायक चाचा श्याम प्रकाश और चचेरे भाई भड़ायल प्रधान रवि प्रकाश ने सियाराम को पीट दिया और अपने वाहन में डाल कर चले गए। इसके बाद से उसके पिता का अता पता नहीं है। राघवेन्द्र ने इस मामले में कार्यवाही को डीआईजी को भी पत्र भेजा था।
हालांकि, मारपीट और अपहरण की जिस रोज की घटना बताई गई थी, उस दिन सांसद दिल्ली और विधायक लखनऊ में मौजूद थे। बहरहाल, शिकायत के अगले ही दिन कथित अपहृत सियाराम कचहरी व एसपी दफ़्तर कैम्पस में टहलता दिखा। उसी वक़्त विधायक पुत्र/भड़ायल प्रधान रवि प्रकाश एएसपी (पश्चिमी) त्रिगुण विशेन से भेंट कर मामले को पंचायत चुनाव की रंजिश से जुड़ा बता आधारहीन शिकायत करने वाले पर क़ानूनी कार्यवाही की मांग कर रहे थे। एसपी दफ़्तर कैम्पस में टहल रहे कथित अपहृत सियाराम की टड़ियावां एसओ अशोक यादव की वीडियो भी बनाई थी। अपहरण के बारे में पूछे जाने पर सियाराम ने बताया था कि 06/07 की दरमियानी रात 02 बजे उसे छोड़ दिया गया था। उसे कहां ले जाया गया, कहां रखा गया और कहां छोड़ा गया, इन सवालों के जवाब सियाराम के पास नहीं थे।
मारपीट और अपहरण के कथित मामले को लेकर आज सदर सांसद अंशुल वर्मा, विधायक श्याम प्रकाश और प्रधान रवि प्रकाश ने पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी से उनके कैम्प कार्यालय पर मुलाक़ात की। दोनों नेताओं ने आरोप मनगढन्त ठहराए। सांसद ने बताया, जिस दिन की घटना बताई गई है, उस दिन वह दिल्ली में थे। विधायक ने बताया कि वह लखनऊ में थे। दोनों नेताओं ने कहा, जब जन प्रतिनिधियों पर मनगढन्त आरोप लगा शिकायती पत्र दिए जाएंगे, तब आम आदमी निश्चित ही हतोत्साहित होगा। लिहाजा, ऐसे मामलों की पुनरावृत्ति नहीं हो, इसलिए प्रकरण में कठोर कार्यवाही कर समाज में सन्देश छोड़ा जाना जरुरी है। दोनों नेताओं की आपत्ति को संजीदगी से लेते हुए प्रियदर्शी ने टड़ियावां एसओ अशोक यादव को मामले में सुसंगत कार्यवाही का निर्देश दिया है। उन्होंने रवि प्रकाश से एसओ से मिलने को कहा।
वहीं, सांसद और विधायक ने कूटरचित प्रकरण की सोशल मीडिया पर रिपोर्टिंग करने वाली एक मासिक समाचार पत्रिका के सम्पादक के विरुद्ध भी एसपी को शिकायती पत्र दिया। कहा है, सांसद के दिल्ली में और विधायक के लखनऊ में होने के बावजूद समाचार तथ्यों से परे और आपत्तिजनक भाषा में परोस कर दोनों नेताओं की छवि धूमिल करने का प्रयास किया गया। विधायक श्याम प्रकाश ने पत्रिका के सम्पादक पर ब्लैकमेल करने का भी आरोप लगाया। कहा, विधानसभा चुनाव के दौरान उनके पक्ष में समाचार देने की एवज में पत्रिका के सम्पादक ने धन की मांग की थी। इन्कार करने पर समय-समय पर उक्त पत्रिका का सम्पादक उनके विरुद्ध मनगढन्त और भ्रामक समाचार प्रसारित करने लगा। सांसद और विधायक ने छवि धूमिल करने और सम्मान को चोट पहुंचाने के आरोप में समाचार पत्रिका के सम्पादक के विरुद्ध सुसंगत कार्यवाही की मांग की।
***
#अंशुल ने गौ भोज कार्यक्रम में गाय को खिलाई खीर-पूड़ी
#नेवादा को गौशाला और स्पोर्ट्स स्टेडियम दिलाने का आश्वासन
सदर सांसद अंशुल वर्मा सुरसा ब्लॉक की ग्राम पंचायत नेवादा में ब्रह्मदेव स्थान पर गौ भोज कार्यक्रम में आज बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। इस मौके पर उन्होंने गाय की पूजा कर खीर-पूड़ी खिलाई। इस अवसर पर हुई सभा में सांसद ने कहा, जब वह निर्वाचित हुए थे, तब विकास के पैमाने पर जिला निचले पायदान पर था, आज 04 साल बाद 14वें स्थान पर है। कहा, मोदी सरकार ने हाशिए के लोगों के के लिए 150 से ज़्यादा कल्याणकारी योजनाएं दीं। चाहें प्रधानमन्त्री आवास योजना हो, जन धन योजना हो, सुकन्या योजना हो, जीवन व कृषि बीमा योजना हो, उज्ज्वला योजना हो, आयुष्मान योजना हो, लाखों लोग इनसे लाभान्वित हुए। कहा, आगे भी ज़रूरतमंदों को योजनाओं को लाभ मिले, इस दिशा में जागरूकता के समवेत प्रयास की जरूरत है। ग्रामीणों की मांग पर सांसद ने गौशाला व स्पोर्ट्स स्टेडियम मुहैया कराने का आश्वासन दिया ।
कार्यक्रम की अध्यक्षता सुरसा के पूर्व प्रधान दिवाकर शर्मा ने की। इस मौके पर आयोजक नेवादा के पूर्व प्रधान नेवादा रामचन्द्र यादव, प्रधान प्रतिनिधि सरोज यादव, सांसद प्रतिनिधि विनोद राठौर व शैलेन्द्र सिंह राजपूत, भाजपा के बूथ अध्यक्ष जसकरन शास्त्री, इन्स्पेक्टर सिंह आदि मौजूद रहे।