बदहाल बिजली व्यवस्था को लेकर सवर्ण चेतना आई मैदान में

0
3

आज सवर्ण चेतना सभा के बैनर तले जनपद की बदहाल बिजली व्यवस्था के विरोध में कलेक्ट्रेट में विरोध प्रदर्शन किया गया और साथ ही जिलाधिकारी हरदोई को ज्ञापन के साथ लालटेन भी भेंट की गयी। जिसमें सभी पदाधिकारियों के हाथों में हाथ से बने हुये पंखे, लालटेन, फ्यूज बल्ब, दफ्ती को हाथ में लेकर उग्र प्रदर्शन किया गया। सैकड़ो की संख्या में पदाधिकारी, अधिवक्ताओं ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। जनपद की चरमराई बिजली व्यवस्था को लेकर जन प्रतिनिधि और प्रशासन मूक दर्शक बना हुआ है। इस पर भी कई वक्ताओं ने सवाल उठाये।

विरोध प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुये प्रदेश अध्यक्ष एडवोकेट हाईकोर्ट आदर्श दीपक मिश्र ने कहा जनपद की ध्वस्त बिजली व्यवस्था अगर जल्द न सुधरी तो शासन प्रशासन से आम जनमानस के साथ संगठन के लोग आर पार की लड़ाई को लड़ने का कार्य करेगें। खराब बिजली व्यवस्था की पूरी ज़िम्मेदारी जनपद के जन प्रतिनिधियों एवं प्रशासन की है। जो पूर्णरूप से आम जनमानस को निजात दिला पाने में सक्षम नहीं हैं। यदि व्यवस्था में जल्द परिवर्तन नहीं आया तो संगठन के पदाधिकारी बिजली विभाग के अधिकारियों के घरो के घेराव करने का काम करेगें।

प्रदेश महासचिव धीरज सिंह चौहान एडवोकेट एवं प्रदेश अध्यक्ष अल्प संख्यक सभा आरिफ खान ने कहा कि खराब बिजली व्यवस्था के लिये प्रमुख रूप से बिजली विभाग के अधिकारी जिम्मेदार हैं। जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों से ध्वस्त बिजली व्यवस्था को लेकर आंदोलन शुरू हो चुका है। कई जगह पावर हाउसों का घेराव भी होना शुरू हो गया है। बिजली विभाग के आला अधिकारी अपना फोन भी नहीं उठाना चाहते हैं। जल्द जनपद की बिजली विभाग के बड़े अधिकारियों की ऊर्जा मंत्री से शिकायत भी की जायेगी। जिला अध्यक्ष योगेश सिंह एवं महिला सभा अध्यक्ष प्रतिमा मिश्रा एडवोकेट ने कहा कि बिजली कटौती पूरे जिले का आम मुद्दा बन चुका है। बिजली व्यक्ति के जीवन की अति आवश्यक आवश्यकता है। इससे सभी वर्ग के लोग व्यापारी, किसान, विद्यार्थी सभी परेशान एवं बेहाल हैं। जिस ओर बिजली विभाग के अधिकारियों का कोई ध्यान नहीं है। अगर एक सप्ताह के अन्दर स्थिति सही नहीं हुयी तो आन्दोलन होगा और इसकी पूरी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

विरोध प्रदर्शन में प्रमुख रूप से मण्डल महासचिव शिवम गुप्ता, जिला अध्यक्ष छात्र संघ आदर्श मिश्रा, प्रदेश सचिव शिवमोहन शुक्ला, वरिष्ठ अधिवक्ता सुरेश चन्द्र तिवारी, विजय बहादुर सिंह एडवोकेट, शशिकान्त सिंह, कृष्णकान्त मिश्र एडवोकेट प्रदेश महा सचिव, सचिन शुक्ला, सुधांशु श्रीवास्तव, रामजी अवस्थी, विजय पाण्डेय एडवोकेट, मिथलेश कुमार मिश्रा एडवोकेट, सुशील त्रिपाठी एडवोकेट, सुशील मिश्रा, चन्द्रशेखर पाल एडवोकेट, रवि श्रीवास्तव, मोहित सिंह, शिवम सिंह, राजीव सिंह एडवोकेट, बालकृष्ण शुक्ला, अयूब खान, राजेश मिश्रा, अखिलेश तिवारी, ,पवन सिहराजीव कश्यप एडवोकेट, प्रमोद यादव एडवोकेट, अमित अग्निहोत्री, श्रीकान्त तिवारी एडवोकेट सहित सैकड़ो पदाधिकारी कार्यकर्ता मौजूद रहे।