गीता विद्यालय के वार्षिकोत्सव में बच्चों के रंगारंग कार्यक्रमों ने मनमोहा, राज्यसभा सांसद अशोक बाजपेयी ने की शिरकत

0
14

डॉ अशोक बाजपेयी : सांसरिक जीवन में अच्छे संस्कार व आचरण की जननी विद्यालय है। विद्यालय का अच्छा माहौल ही बच्चों के जीवन को अनुशासित बनाता है

Aman Pandey,
_____________________________________________
गीता विद्यालय शाहाबाद में वार्षिक उत्सव मनाया गया। जिसमें बच्चों ने विभिन्न प्रकार देशभक्ति के कार्यक्रमों का मंचन किया। कार्यक्रम में देश-भक्ति व संस्कृति की झलक देखने को मिली। एक कार्यक्रम में सोशल मीडिया के बढ़ते चलन से माता पिता के बच्चों के प्रति कम होती नजदीकियों को दिखाया। जिसकी दर्शको ने खूब सराहना की। इसके साथ सीमाओं पर देश के जवान हमारे देश की कैसे रक्षा करते है कार्यक्रमों के माध्यम से दर्शाया गया।  विभिन्न प्रकार के लोक गीतों व नृत्य से मौजूद दर्शकों का मन मोह लिया।

मुख्य अतिथि के रूप में आये राज्यसभा सांसद डॉ अशोक बाजपेयी ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का श्री गणेश किया।राज्यसभा सांसद अशोक बाजपेयी ने कार्यक्रमों की प्रशंसा करते हुए बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा विद्यालय से बड़ा कोई संस्कार देने वाला केन्द्र नही हो सकता।नर्सरी से लेकर माध्यमिक शिक्षा तक, जो कुछ भी हम विद्यालय से सीखते हैं वो जीवन के आचरण बन जाते है। मेरा मानना यह है कि शिक्षा के लिए सिर्फ पुस्तकीय ज्ञानसीमित नही है बच्चों में अच्छे संस्कार,अच्छे विचार,अनुशासन,बड़ो के प्रति आदर भाव,समाज के प्रति दायित्व निर्वहन का बोध हो। अंक प्राप्त करने के लिए आपको केवल परीक्षा देनी होती है परन्तु सांसारिक जीवन मे कदम कदम पर अपने आचरण व संस्कारो की परीक्षा देनी पड़ती है। जो हमे विधालय के वातावरण से प्राप्त होती है।यही आपकी यश कीर्ति को बढ़ाने का काम करते है व समाज मे सम्मान के प्रति उत्तरदायी भी है।गीता विद्यालय के बारे में कहना चाहूंगा कि 1973 में गीता विद्यालय स्थापित हुआ। ओम चंद्र गुप्ता जी ने अपना सम्पूर्ण जीवन विधालय को विकसित करने में लगा दिया।श्री गुप्ता दी 45 वर्षो से एक साधना की तरह विधालय को आगे बढ़ाने के काम कर रहे है।आज 2000 से ज्यादा बच्चे विभिन्न शाखाओं में यहाँ शिक्षा प्राप्त कर रहे है।यहाँ के प्रधानाचार्य प्रमोद गुप्ता जी युवा विचारवान व्यक्ति है उनका यही प्रयास है कि सम्पूर्ण जिले में गीता विधालय का नाम हो।

**

प्रधानाचार्य प्रमोद गुप्ता ने आये हुए सभी सांसद डॉ अशोक बाजपेयी, अतिथिगण, अभिभावकों व पत्रकारों का आभार व्यक्त किया।