“एन इंटरैक्टिव सेशन ऑफ क्लास 12th स्टूडेंट्स विद डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट” रहा काफी सराहनीय

0
8

जिलाधिकारी ने स्टूडेंट्स के सवालों के दिए जवाब, अधिकांश सवाल रहे कैरियर बेस्ड

ज़िलाधिकारी ने ज़िले के टॉपर आलोक पटेल को ट्रॉफी व प्रमाणपत्र देकर किया सम्मानित

हरदोई : आज रसखान प्रेक्षागृह में श्रीश चन्द्र पब्लिक स्कूल एवं डीएससीएल शुगर मिल ने संयुक्त रूप से जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में 12वीं कक्षा में पढ़ रहे व पढ़ चुके छात्र/छात्राओं के साथ संवादात्मक कार्यक्रम आयोजित किया। शुभारम्भ ज़िलाधिकारी ने दीप प्रज्ज्वलित कर व मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर किया।

कार्यक्रम में जिले में संचालित सीबीएससी स्कूलों के कक्षा 12 के छात्र एवं छात्राओं ने भाग लिया। डीएम पुलकित खरे ने ज़िले के टॉपर आलोक पटेल को ट्रॉफी व प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया। राकेश अग्रवाल (प्रबन्धक, श्रीश चन्द्र पब्लिक स्कूल), पंकज सिंह (संयुक्त उपाध्यक्ष, डी.एस.सी.एल. शुगर लोनी शाहाबाद) आलोक मिश्रा (अतिरिक्त महाप्रबन्धक डी.एस.सी.एल. शुगर हरियावाँ) ने अन्य स्कूल टॉपर्स ज्योति शुक्ला, विकास मिश्रा को ट्रॉफी व प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया।

इंटरैक्टिव सेशन के दौरान डीएम पुलकित खरे से बच्चों ने तरह तरह के प्रश्न पूछे। उनके जवाब भी जिलाधिकारी ने बड़ी ही सरलता से दिये। उन्होंने बताया कि वो कैसे बने आईएएस। स्टूडेंट्स के सवालों में अधिकाँश सवाल ऐसे थे जहां उन्हें अपने कैरियर को लेकर उधेड़बुन थी। डीएम ने काफी सरल और प्रभावी तरीके से उनकी जिज्ञासा को शान्त किया। डीएम ने इस दौरान बताया कि जब 6 महीने एक मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब कर लिया तब अचानक उन्हें लगा कि जॉब उनके आईएएस बनने में बाधक सिद्ध हो रही है। उन्होंने तत्काल प्रभाव से जॉब छोड़ा और आईएएस की तैयारी शुरू कर दी। उन्होंने स्टूडेंट्स को जीवन में आगे बढ़ने के उपाय भी बताये।

कार्यक्रम का संचालन माधुरी मिश्रा (आधारशिला प्ले स्कूल समन्वयक) ने किया। इससे पहले कार्यक्रम की शुरूआत चित्रा बाजपेयी (प्रधानाचार्या श्रीश चन्द्र पब्लिक स्कूल) ने आये हुए अतिथियों को बुके भेट कर की तथा यह भी बताया कि स्कूल शीघ्र ही कक्षा 12 तक हो जायेगा।

कार्यक्रम में अनूप पाण्डेय (लोनी मिल), आनन्द कुमार सिंह (रूपापुर मिल) तथा हरियावाँ मिल के अंकित कण्डपाल, सन्तोष सिंह के साथ अनेक स्कूली बच्चे, अभिभावक व गणमान्य अतिथि मौजूद रहे।